होम /न्यूज /उत्तराखंड /अल्मोड़ा में आवारा जानवर लगा रहे सड़कों पर जाम, पालतू पशु खुला छोड़ने पर अब होगी कार्रवाई

अल्मोड़ा में आवारा जानवर लगा रहे सड़कों पर जाम, पालतू पशु खुला छोड़ने पर अब होगी कार्रवाई

Stray Animals Roaming on Roads: इन दिनों अल्मोड़ा में आवारा पशुओं की संख्या लगातार बढ़ रही है, जिससे जनता परेशान है. कई ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

रिपोर्ट: रोहित भट्ट

अल्मोड़ा. उत्तराखंड की सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा में ट्रैफिक जाम की समस्या आम हो चली है. स्थानीय लोगों के साथ-साथ पर्यटक भी इससे जूझते रहते हैं. अल्मोड़ा में सड़क जाम की एक वजह तो है वाहनों की बढ़ती संख्या और दूसरी बड़ी वजह है आवारा जानवरों का सड़कों पर जमावड़ा. आलम यह है कि शहर की हर गली, मोहल्ले और मुख्य सड़कों पर पशु घूमते नजर आ जाएंगे. कई बार बीच सड़क पर झुंड में बैठे पशुओं की वजह से लंबा जाम लग जाता है.

इन दिनों अल्मोड़ा में आवारा पशुओं की संख्या लगातार बढ़ रही है, जिससे जनता परेशान है. कई पशुपालक अपने पालतू जानवरों को शहर में छोड़ जाते हैं, जिससे नगर की सड़कों पर पशुओं का झुंड देखने को मिल रहा है. सड़क के बीचोंबीच बैठकर ये आवारा जानवर जाम लगा रहे हैं, जिससे राहगीरों को भी काफी परेशानी हो रही है. अल्मोड़ा नगरपालिका निराश्रित पशुओं को इससे पहले तक बाजपुर गो-सदन छोड़ा करती थी. अब एक बार फिर पालिका इन्हें गो-सेवा सदन में छोड़ने पर विचार कर रही है.

नगरपालिका के ईओ भरत त्रिपाठी ने बताया कि निराश्रित पशुओं को बाजपुर के गो-सदन भेजा जाता है. कई बार इन आवारा गोवंशों को वहां भेजा गया है और आनेवाले समय में भी इनको बाजपुर गो-सदन भेजा जाएगा. पालिका द्वारा अल्मोड़ा के आसपास जमीन देखी जा रही है, जिसमें गो-सदन बनाया जाए. जमीन ढूंढ़ने की तैयारी चल रही है. जैसे ही भूमि की पहचान कर ली जाएगी, वैसे ही डीपीआर बनाकर शासन को भेजी जाएगी. इसके अलावा जो अपने पालतू पशुओं को शहर की ओर छोड़ रहे हैं, उनके ऊपर भी कार्रवाई की जाएगी.

दुकानदार मनीष अग्रवाल ने बताया कि आवारा जानवर लगातार लोगों के लिए सिरदर्द बन रहे हैं. शहर में इनकी संख्या बढ़ती जा रही है. कई बार निराश्रित पशु सड़कों पर बैठ जाते हैं, जिससे जाम की समस्या के साथ चलने वाले लोगों को भी काफी दिक्कतें होती हैं. इसके अलावा इनके द्वारा गंदगी फैलाई जा रही है, जिसको स्थानीय प्रशासन और पालिका को देखने की जरूरत है.

Tags: Almora News, Road Jam, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें