• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • पूर्व सीएम एनडी तिवारी की घोषणा के डेढ़ दशक बाद भी नहीं खुला मेडिकल कॉलेज

पूर्व सीएम एनडी तिवारी की घोषणा के डेढ़ दशक बाद भी नहीं खुला मेडिकल कॉलेज

निर्माणाधीन अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज

निर्माणाधीन अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज

मेडिकल कॉलेज के निर्माण को लेकर भाजपा और कांग्रेस श्रेय लेने की होड़ में आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में है.

  • Share this:
2004 में तत्कालीन सीएम एनडी तिवारी की घोषणा के बाद पहाड़ में मेडिकल कॉलेज खुलने का सपना पूरा हो जाना चाहिए था, मगर ऐसा नहीं हुआ. घोषणा के 9 साल बाद अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य 2012 में शुरू हुआ और अभी तक केवल 40 फीसदी के आस-पास ही निर्माण कार्य हो पाया है. वहीं 2017 में मेडिकल कॉलेज में कक्षाएं शुरू करने का लक्ष्य रखा गया था. लेकिन 2019 में भी कक्षाएं शुरू होने की उम्मीद नहीं है. अभी सिर्फ 40 फीसदी के आस-पास ही मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य हुआ है और फैकल्टी की नियुक्ति भी नहीं हुई है.
पहाड़ के युवाओं को मेडिकल की शिक्षा के लिए अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज से काफी उम्मीद थी. लेकिन डेढ़ दशक बीतने के बाद भी अभी कोई उम्मीद दूर-दूर तक नजर नहीं आ रही है. दो बार एमसीआई की टीम मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर वापस लौट चुकी है. राज्य में डबल इंजन की सरकार से मेडिकल कॉलेज बनने की उम्मीद तेज हो गई थी. वैसे बता दें कि राज्य में भाजपा की सरकार बनने के बाद एक साल तक कॉलेज को पैसा नहीं मिला. अब जाकर 33 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद जगी है. अब कुमाऊं के कमिश्नर राजीव रौतेला भी मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य जल्द ही पूरा किए जाने की बात कह रहे हैं.

राजीव रौतेला ने कहा कि आगामी महीनों में मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की एक टीम यहां निरीक्षण करेगी. उन्होंने कहा कि मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के जो पैरामीटर्स हैं उसे पूरा करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं. वहीं मेडिकल कॉलेज के निर्माण को लेकर भाजपा और कांग्रेस श्रेय लेने की होड़ में आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में है. दूसरी तरफ पहाड़ के युवाओं का डॉक्टर बनने का सपना आज भी अधूरा है. इस वर्ष भी निर्माण की धीमी गति और फैकल्टी की नियुक्ति नहीं होना कहीं एमसीआई की मान्यता में रोड़ा न बन जाए.

ये भी पढ़ें - जिला प्रभारी मंत्री हरक सिंह रावत ने नहीं की अल्मोड़ा में विकास कार्यों की समीक्षा

ये भी पढ़ें - डीएम ने जिले से बाहर कार्यरत 21 विकास अधिकारियों का वेतन रोका

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज