Home /News /uttarakhand /

pregnant women level 2 ultrasound facility not available in almora localuk

अल्मोड़ा में नहीं होता गर्भवती महिलाओं का लेवल-2 अल्ट्रासाउंड, मुश्किल हालत में दूसरे शहर जाने को मजबूर

X

गर्भावस्था में महिलाओं के लिए सड़क का इतना लंबा सफर काफी पीड़ादायक और किसी खतरे से कम नहीं होता है.

    रिपोर्ट- रोहित भट्ट, अल्मोड़ा

    अल्मोड़ा जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं का हाल किसी से छुपा नहीं है. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि अल्मोड़ा के अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं की लेवल-2 (Ultrasound Level 2 in Almora) जांच ही नहीं होती है. न सरकारी और न ही किसी प्राइवेट अस्पताल में यह सुविधा उपलब्ध है. प्रेग्नेंट महिलाओं को लेवल-2 अल्ट्रासाउंड कराने के लिए हल्द्वानी या फिर अन्य शहर जाना पड़ता है. गर्भावस्था में महिलाओं के लिए सड़क का इतना लंबा सफर काफी पीड़ादायक और किसी खतरे से कम नहीं होता है.

    गर्भावस्था के 5वें महीने में महिलाओं का लेवल-2 अल्ट्रासाउंड किया जाता है. इस जांच का मकसद बच्चे के शारीरिक विकास का पता लगाना होता है. अल्मोड़ा के महिला अस्पताल में गर्भवती महिलाओं का उपचार तो होता है, लेकिन लेवल-2 अल्ट्रासाउंड न होने से उनके सामने दूसरे शहर जाकर जांच कराने की मुश्किल खड़ी हो जाती है. ज्यादातर महिलाएं इस जांच के लिए हल्द्वानी का रुख करती हैं.

    हल्द्वानी के प्राइवेट अस्पतालों में लेवल-2 की जांच के लिए 2500 से लेकर 3500 रुपये तक लिए जाते हैं. अल्मोड़ा के सीएमओ डॉ. आरसी पंत ने बताया कि महिला अस्पताल में लेवल-2 की मशीन नहीं होने से मरीजों को दिक्कतें हो रही हैं. उनके द्वारा शासन स्तर पर पत्र भेजकर इस मशीन की मांग की गई है.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर