• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • अल्मोड़ा का ऐतिहासिक रैमजे इंटर कॉलेज, सहेज कर रखी हैं ब्रिटिश काल की धरोहर

अल्मोड़ा का ऐतिहासिक रैमजे इंटर कॉलेज, सहेज कर रखी हैं ब्रिटिश काल की धरोहर

रैमजे

रैमजे इंटर कॉलेज उत्तराखंड के अल्मोड़ा में स्थित है.

रैमजे इंटर कॉलेज का निर्माण ब्रिटिश काल में कुमाऊं के कमिश्नर रहे सर हेनरी रैमजे ने कराया था.

  • Share this:

    अल्मोड़ा के रैमजे इंटर कॉलेज (Ramsay Inter College Almora) का इतिहास बेहद शानदार है. यह कॉलेज अल्मोड़ा के चौक बाजार में स्थित है. यह कुमाऊं के सबसे प्राचीन शिक्षण संस्थानों में शुमार है. रैमजे इंटर कॉलेज का निर्माण ब्रिटिश काल में कुमाऊं के कमिश्नर रहे सर हेनरी रैमजे ने कराया था. स्कूल की स्थापना 1851 में हुई थी जोकि सबसे पहले चीनाखान में खुला था, इसके बाद अल्मोड़ा के इस भवन में स्कूल को शिफ्ट किया गया.

    रैमजे इंटर कॉलेज में आज भी ब्रिटिश काल की धरोहर सहेज कर रखी गई हैं. कॉलेज के प्रिंसिपल विनय विल्सन ने न्यूज 18 लोकल की टीम को ब्रिटिश काल की वह घंटी दिखाई, जो आज भी बजाई जाती है.

    इस कॉलेज में 19वीं सदी का बिगुल, भारत का संविधान का बोर्ड, ट्रॉफी और ब्लैकवुड की कुर्सियां भी रखी हुई हैं. यहां एक लाइब्रेरी भी है, जो ब्रिटिश काल की है. इसमें बहुत सी पुरानी किताबें रखी हैं.

    रैमजे इंटर कॉलेज का आजादी के आंदोलन में भी बहुत बड़ा योगदान रहा है. भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत, महान स्वतंत्रता सेनानी विक्टर मोहन जोशी और मुकुंदी लाल समेत देश की कई दिग्गज हस्तियों ने यहां से शिक्षा प्राप्त की है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज