होम /न्यूज /उत्तराखंड /अल्मोड़ा पुलिस ने स्मैक तस्करों पर कसी लगाम, युवाओं को नशे से बचाने के लिए हो रहा ये काम

अल्मोड़ा पुलिस ने स्मैक तस्करों पर कसी लगाम, युवाओं को नशे से बचाने के लिए हो रहा ये काम

उत्तराखंड पुलिस ने नशे के खिलाफ अभियान छेड़ा हुआ है. इसी के तहत अल्मोड़ा जिले में भी युवाओं को नशे के जहर से बचाने के लिए ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: रोहित भट्ट

    अल्मोड़ा. आजकल की युवा पीढ़ी नशे के दलदल में फंसती ही जा रही है. दरअसल युवा वर्ग स्मैक के जाल में फंसकर अपना जीवन तबाह कर रहा है. अगर हम उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले की बात करें, तो यहां का हाल भी कुछ ऐसा ही देखने को मिलता था, लेकिन जब से एसएसपी प्रदीप कुमार राय ने जिले की कमान संभाली है, तब से स्मैक तस्करों पर काफी हद तक लगाम कस चुकी है. उन्होंने इस साल अप्रैल में अल्मोड़ा एसएसपी का चार्ज लिया था.

    अल्मोड़ा जिले में साल 2021 में करीब 427 ग्राम स्मैक पकड़ी गई थी, जिसकी कुल कीमत करीब 43 लाख रुपये थी. नशे की इस खेप के साथ 38 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी. 2022 में नवंबर तक सिर्फ 126 ग्राम स्मैक पकड़ी गई है, जिसकी कुल कीमत करीब 12 लाख रुपये है. इस मामले में 8 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. दोनों वर्षों की तुलना में यह साफ पता चल रहा है कि अल्मोड़ा पुलिस ने सख्ती से स्मैक तस्करों पर नकेल कसी है. वहीं, पुलिस समय-समय युवाओं की काउंसिलिंग भी कर रही है.

    अल्मोड़ा के एसएसपी ने कही ये बात
    अल्मोड़ा के एसएसपी प्रदीप कुमार राय ने बताया कि उत्तराखंड पुलिस ने नशे के खिलाफ अभियान छेड़ा हुआ है. इसी के तहत अल्मोड़ा जिले में भी युवाओं को नशे के जहर से बचाने के लिए स्मैक तस्करों से सख्ती से निपटा जा रहा है. इसके अलावा रात के समय इवनिंग स्टॉर्म अभियान चलाया जा रहा है. पुलिस गलियों और सुनसान इलाकों में लगातार गश्त कर रही है, जिसका यह असर देखने को मिला है कि युवा वर्ग स्मैक का नशा अब धीरे-धीरे छोड़ रहे हैं. साथ ही उनकी काउंसलिंग भी कराई जा रही है और यह अभियान लगातार चलाया जाएगा.

    स्थानीय निवासी नवीन चंद पांडे ने कहा कि अल्मोड़ा में अब धीरे-धीरे स्मैक का नशा कम हो रहा है. पुलिस लगातार कांबिंग कर रही है, जिससे युवाओं के मन में एक प्रकार का भय भी बना हुआ है. पुलिस नशे के जहर से बचाने में उनकी मदद ही कर रही है. इसके लिए अल्मोड़ा पुलिस बधाई की पात्र है.

    Tags: Almora News, Uttarakhand Police

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें