होम /न्यूज /उत्तराखंड /छात्रसंघ चुनाव की तारीख के ऐलान से अल्मोड़ा कॉलेज में बढ़ी रौनक, शुरू हुआ राजनीति का दौर

छात्रसंघ चुनाव की तारीख के ऐलान से अल्मोड़ा कॉलेज में बढ़ी रौनक, शुरू हुआ राजनीति का दौर

छात्रसंघ चुनाव की तारीख की घोषणा होने पर अल्मोड़ा के छात्र नेताओं में खुशी का माहौल है.इसके साथ छात्र चुनाव की तैयारियो ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: रोहित भट्ट

    अल्मोड़ा. उत्तराखंड के छात्र नेताओं को लंबे समय से चुनाव की तारीख की घोषणा का इंतजार था. छात्रसंघ चुनाव की मांग को लेकर कई जिलों में धरना प्रदर्शन, भूख हड़ताल और पुतला फूंकने से लेकर पानी की टंकी तक पर चढ़कर छात्र नेता उग्र आंदोलन की धमकी देते नजर आए. अब तारीख की घोषणा हो गई है. 24 दिसंबर को चुनाव कराए जाएंगे. चुनाव की तारीख का ऐलान होते ही छात्र नेताओं के चेहरे खिल उठे हैं. इस बीच अल्मोड़ा कॉलेज के छात्र नेता चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं.

    छात्रसंघ चुनाव की तारीख की घोषणा होने पर अल्मोड़ा के छात्र नेताओं में खुशी का माहौल है. सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय (SSJ University Almora) में छात्र नेता चुनावी तैयारियों में जुट गए हैं. कॉलेज अब फिर से चुनावी पोस्टर-होर्डिंग से पटा हुआ नजर आने लगा है. भावी उम्मीदवार छात्र-छात्राओं से उन्हें वोट देने की अपील कर रहे हैं और बता रहे हैं कि उनकी जीत कॉलेज हित के लिए कितना मायने रखती है.

    छात्र नेता संजू सिंह ने बताया कि पिछले कई सालों से चुनाव की तैयारी कर रहे थे. तीन साल के बाद छात्रसंघ के चुनाव हो रहे हैं, जिससे उन्हें काफी खुशी है. छात्र नेता कमलेश कुमार ने कहा कि आखिरकार तीन साल के बाद छात्रसंघ चुनाव होने जा रहे हैं. यह छात्र नेताओं की जीत है. वह कॉलेज परिसर में लगातार छात्रों के बीच रहकर उनकी मदद कर रहे हैं.

    छात्र नेता आशीष जोशी ने कहा कि यह पूरे छात्र समुदाय की जीत है, जो हमने राज्य सरकार और उच्च शिक्षा मंत्रालय को झुकाया है. वह पिछले कई सालों से कॉलेज में रहकर तैयारी कर रहे हैं और छात्रों के बीच रहकर उनके लिए और कॉलेज की बेहतरी के लिए काम करना चाहते हैं.

    सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता प्रशासन प्रवीण बिष्ट ने बताया कि छात्रसंघ चुनाव की तारीख तय हो गई है, जिसको लेकर तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं. विश्वविद्यालय में यह पहला ऐसा चुनाव है, जिसमें छात्र-छात्राओं में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है. शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराए जाएंगे.

    बता दें कि अल्मोड़ा डिग्री कॉलेज में आखिरी बार सितंबर 2019 में चुनाव हुए थे. कोरोना के चलते 2020 और 2021 में चुनाव नहीं कराए गए. अल्मोड़ा, नैनीताल, उधम सिंह नगर, देहरादून समेत प्रदेश के कई जिलों में छात्र नेता चुनाव की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे.

    Tags: Almora News

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें