लाइव टीवी

अल्मोड़ा में लॉकडाउन सफल बनाने के लिए सड़क पर उतरे एसएसपी, डॉक्टर को रोकने पर सिपाही सस्पेंड
Almora News in Hindi

Kishan Joshi | News18 Uttarakhand
Updated: March 24, 2020, 5:41 PM IST
अल्मोड़ा में लॉकडाउन सफल बनाने के लिए सड़क पर उतरे एसएसपी, डॉक्टर को रोकने पर सिपाही सस्पेंड
अल्मोड़ा पुलिस और प्रशासन की नज़र उन सैकड़ों लोगों पर भी है जो पिछले एक महीने में विदेश से लौटे हैं या विदेशियों से मिलकर आ रहे हैं.

सभी थानों और चौकियों को एसएसपी ने निर्देश हैं कि बिना ज़रूरी काम के कोई भी व्यक्ति घूमते मिले तो उस पर कार्रवाई करें.

  • Share this:
अल्मोड़ा. कोरोना को फैलने से रोकने के लिए सोमवार से 31 तारीख तक प्रदेश में लॉकडाउन किया गया है लेकिन ऐसा लग रहा है कि लाखों लोगों को शिकार बनाने वाले कोरोना वायरस के खतरे को प्रदेश में लोग समझ नहीं रहे हैं. सोमवार को लॉकडाउन के पहले दिन करीब 200 लोगों को पुलिस ने गिरफ़्तार किया तो बहुत से अन्य को चेतावनी देकर घर भेजा. लोगों के इस रवैये की वजह से इससे लॉकडाउन करवाने वाली पुलिस और प्रशासन की मुश्किलें बढ़ गई हैं. अल्मोड़ा में लॉक डाउन को सफल बनाने के लिए खुद एसएसपी को सड़क पर उतरना पड़ा. इस बीच एक डॉक्टर को रोकने पर एक सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया.

ज़रूरी काम के बिना निकले तो कार्रवाई

अल्मोड़ा के एसएसपी प्रहलाद नारायण मीणा लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए खुद सड़क पर उतरे और कहा कि लोगों से लगातार अपील की जा रही है कि वह घरों से न निकलें और जो लोग इस अपील को नहीं मानेंगे उन पर कार्रवाई की जाएगी. एसएसपी ने कहा कि सभी थानों और चौकियों को एसएसपी ने निर्देश हैं कि बिना ज़रूरी काम के कोई भी व्यक्ति घूमते मिले तो उस पर कार्रवाई करें.

अल्मोड़ा पुलिस और प्रशासन की नज़र उन सैकड़ों लोगों पर भी है जो पिछले एक महीने में विदेश से लौटे हैं या विदेशियों से मिलकर आ रहे हैं. इज़रायल के 50 से अधिक लोगों को विशेष वाहन से दिल्ली के लिए भी रवाना कर दिया गया है.



डॉक्टर को ही रोक दिया

कोरोना वायरस को लेकर की जा सख्ती का शिकार अल्मोड़ा में एक डॉक्टर भी हो गए. दरअसल ये डॉक्टर अस्पताल जा रहे थे जिन्हें पूछताछ के बहाने एक सिपाही ने काफ़ी देर तक रोके रखा. डॉक्टर ने इसकी शिकायत एसएसपी से कर दी जिसके बाद उस सिपाही को सस्पेंड कर दिया गया.

बेरोक-टोक बन रहा मकान

अल्मोड़ा के धारानौला के पास एक मकान में लेंटर डाला जा रहा है जिसका काम बेरोक-टोक जारी है. सुबह आस-पास के लोगों ने कंट्रोल रूम में फ़ोन किया, वहां फोन तो कर्मचारियों ने रिसीव कर लिया लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई.

दर्जनों मजदूर सुबह से ही लेंटर डालने का काम करते रहे जबकि ज़िले में धारा 144 लागू है और इसके बाद एक स्थान पर 5 से अधिक लोग इकट्ठ नहीं हो सकते.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अल्मोड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 5:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर