लाइव टीवी

3 बार अल्मोड़ा आए थे स्वामी विवेकानंद, अब यहां उनके नाम पर बनेगा पर्यटन सर्किट
Almora News in Hindi

Kishan Joshi | News18 Uttarakhand
Updated: February 26, 2020, 6:25 PM IST
3 बार अल्मोड़ा आए थे स्वामी विवेकानंद, अब यहां उनके नाम पर बनेगा पर्यटन सर्किट
उत्तराखंड में बनेगा विवेकानंद टूरिज्म सर्किट

स्वामी विवेकानंद का उत्तराखंड से गहरा नाता रहा है, उन्हें यहीं पर ज्ञान प्राप्त हुआ था. अब पर्यटन विभाग (Tourism Department) उनसे जुड़े स्थानों को विवेकानंद सर्किट के रूप में विकसित करने जा रहा है.

  • Share this:
अल्मोड़ा. स्वामी विवेकानन्द (Swami Vivekanand) पहली बार 1890 में कुमाऊं के दौरे पर आये, काकड़ीघाट में पीपल के पेड़ के नीचे उन्हें ज्ञान प्राप्त हुआ. अल्मोड़ा नगरी से स्वामी विवेकानन्द का गहरा नाता रहा है. अपने जीवन काल में वो 3 बार अल्मोड़ा आये. अब उनसे जुड़े स्थानों अल्मोड़ा, काकड़ीघाट, कसारदेवी आदि स्थानों को विवेकानन्द सर्किट के रुप में विकसित करने की योजना बनाई जा रही है. इन जगहों पर वर्ष भर लाखों की संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं.

विवेकानन्द सर्किट बनाएगा पर्यटन विभाग
पर्यटन विभाग अब विवेकानन्द सर्किट बनाने जा रहा है, ताकि जो भी पर्यटक अल्मोड़ा पहुंचे, वो पूरे सर्किट को देख सके. पर्यटन विभाग ने पूरे सर्किट को विकसित करने के लिए कार्ययोजना बनाई है. पर्यटन अधिकारी राहुल चौबे ने कहा इस कार्ययोजना का लाभ यहां आने वाले पर्यटकों को मिलेगा. स्थानीय निवासी विशन सिंह कहते हैं कि हर साल भारी संख्या में देशी विदेशी पर्यटक यहां पहुंचते हैं. काकड़ीघाट क्षेत्र में लोग ध्यान योग के लिए भी आते हैं.

ट्रंप ने किया था स्वामी विवेकानंद का ज़िक्र



अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने भी अपने भारत दौरे के दौरान स्वामी विवेकानन्द का कई बार जिक्र किया है. विवेकानन्द सर्किट के बनने से अल्मोड़ा आने वाले पर्यटकों को उनकी यात्रा की पूरी जानकारी मिल पायेगी. पर्यटकों के बढने से स्थानीय लोगों को भी रोजगार मिलेगा. वैसे भी कसार देवी, काकड़ीघाट और अल्मोड़ा में हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक आते है.

ये भी पढ़ें -
ऋषिकेश के त्रिवेणी संगम पर देवस्थानम एक्ट के खिलाफ पूजा, हवन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अल्मोड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 26, 2020, 6:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर