Home /News /uttarakhand /

'बागी ही नहीं, भाजपाई भी संपर्क में' अब गणेश गोदियाल ने किया दावा, तो हरीश रावत ने बताया कहां से लड़ेंगे चुनाव

'बागी ही नहीं, भाजपाई भी संपर्क में' अब गणेश गोदियाल ने किया दावा, तो हरीश रावत ने बताया कहां से लड़ेंगे चुनाव

हरीश रावत और गणेश गोदियाल अल्मोड़ा पहुंचे.

हरीश रावत और गणेश गोदियाल अल्मोड़ा पहुंचे.

Politics of Uttarakhand : आपदाग्रस्त इलाके में पीड़ित लोगों से मिलने पहुंचे कांग्रेस नेताओं ने कहा कि लोगों ने परिवर्तन का मन बना लिया है. कांग्रेस नेताओं ने आपदा में पीडितों तक सरकार के न पहुंचने का आरोप लगाकर सियासी हलचलों पर भी बातचीत की.

अधिक पढ़ें ...

अल्मोड़ा. 2022 में होने जा रहे विधानसभा चुनावों से पहले दलबदल उत्तराखंड की राजनीति में सबसे चर्चित विषय हो गया है. कांग्रेस के नेता भाजपा में और भाजपा के नेता कांग्रेस में आवाजाही कर रहे हैं. 2017 में 9 विधायक कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए थे. उनमें से कुछ विधायक अब वापस कांग्रेस में आना चाहते हैं, जिन्हें लेकर खूब चर्चा भी होने लगी है. शुक्रवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गोविंद सिंह कुंजवाल के दावे के बाद अब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने दावा किया है कि कांग्रेस के बागी ही नहीं, बल्कि भाजपाई भी कांग्रेस के संपर्क में हैं.

लोग चाहते हैं बदलाव : गोदियाल
उत्तराखंड कांग्रेस में प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल का कहना है कि बीजेपी में गए बागी ही नहीं, कुछ और भाजपा के नेता भी उनके संपर्क में हैं, जो कांग्रेस में आना चाहते हैं. गोदियाल ने कहा, ‘भाजपा में नेताओं को सम्मान नहीं मिल रहा है. वो चाहते हैं कि कांग्रेस में आकर राज्य के लोगों की सेवा करें.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा में भी लोगों के हूजूम को देखकर लगता है कि अब लोग राज्य में परिवर्तन चाहते हैं.

Uttarakhand news, Uttarakhand chunav, harish rawat bayan, उत्तराखंड ताजा समाचार, conress bayan, ganesh godiyal bayan, उत्तराखंड चुनाव, उत्तराखंड की राजनीति

अल्मोड़ा में कांग्रेस नेताओं ने उत्तराखंड की दलबदल सियासत के बारे में बड़े बयान दिए.

जहां से पार्टी कहेगी, रावत वहां से लड़ेंगे चुनाव
इधर, चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत से जब पूछा गया कि वह कौन सी सीट से चुनाव लड़ने के बारे में सोच रहे हैं, तो उन्होंने कहा कि इस बारे में वह पार्टी के आदेश को ही मानेंगे. गौरतलब है कि रावत कह चुके हैं कि वह दलबदल के पक्ष में नहीं हैं, लेकिन भाजपा के शुरू किए गए इस खेल को कांग्रेस अंजाम तक लेकर जाएगी.

बागियों की वापसी राज्य हित में नहीं : टम्टा
उत्तराखंड में नेताओं के दलबदल के दौर में कुछ कांग्रेसी बागियों की वापसी का स्वागत कर रहे हैं, तो लंबे समय तक पार्टी में काम करने वाले बागियों के वापस आने से अपने भविष्य को लेकर परेशान दिखने लगे हैं. राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने भी कहा कि जो लोग अपनी ही सरकार को गिराकर दूसरी पार्टी में गए, अब वो कांग्रेस को सत्ता में आते देख लौटने की बात कर रहे हैं. यह राज्य हित में नहीं है. ऐसे में जनप्रतिनिधियों पर जनता का विश्वास टूटता है.

Tags: Uttarakhand Assembly Election 2022, Uttarakhand Congress, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर