यौन उत्पीड़न केस : उत्तराखंड में BJP विधायक मुश्किल में, धरना देकर पीड़िता ने की DNA टेस्ट की मांग

यौन उत्पीड़न पीड़िता के विरोध प्रदर्शन को कांग्रेस ने समर्थन दिया.

Uttarakhand News : द्वाराहाट से विधायक महेश नेगी मुश्किलों में घिरते हुए दिखाई दे रहे हैं. एक तरफ पीड़ित महिला ने मोर्चा खोल दिया है तो दूसरी तरफ इस कथित दुष्कर्म मामले पर कांग्रेस भी भाजपा को घेरने की तैयारी में है.

  • Share this:
अल्मोड़ा. द्वाराहाट से भाजपा विधायक महेश नेगी की मुस्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. ताज़ा खबर यह है कि नेगी पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला पहली बार द्वाराहाट पहुंची और दर्जनों महिलाओं के साथ मुख्य बाज़ार क्षेत्र में धरना दिया. इस धरने में कांग्रेस के पूर्व विधायक मदन बिष्ट और उनके समर्थक भी मौजूद थे. पूरे दिन धरने के दौरान पीड़िता ने नेगी पर डीएनए टेस्ट से बचने समेत कई आरोप लगाए, तो दूसरी तरफ भाजपा विधायक नेगी मीडिया से बचते हुए नज़र आए.

पीड़ित महिला का आरोप है कि विधायक महेश नेगी ने उनके साथ कई सालों तक दुष्कर्म किया. इसका परिणाम यह हुआ कि वह एक बेटी को जन्म दे चुकी है. अब महिला की मांग है कि विधायक नेगी बेटी को अपना नाम देकर अपनाएं. पीड़िता ने धरने के दौरान आरोप लगाया कि विधायक डर रहे हैं. 'मेरी बेटी को पिता का नाम चाहिए. अगर जल्द ही विधायक ने डीएनए टेस्ट नहीं करवाया तो मैं अपनी बेटी को लेकर विधायक जी के घर में ही ठिकाना बना लूंगी.'

ये भी पढ़ें : उत्तराखंड हाई कोर्ट ने कहा, 'देश संविधान से चलता है, शास्त्रों से नहीं'

uttarakhand latest news, uttarakhand crime, sexual exploitation, rapist politician, उत्तराखंड न्यूज़, उत्तराखंड क्राइम, यौन शोषण, बलात्कारी विधायक
द्वाराहाट से विधायक महेश नेगी पर यौन उत्पीड़न के आरोप हैं.


कांग्रेस ने भी की डीएनए टेस्ट की मांग
पूर्व विधायक मदन बिष्ट ने कहा कि नेगी ने अगर कुछ नहीं किया है, तो वह क्यों डर रहे हैं? नेगी को जल्द से जल्द से डीएनए टेस्ट करवाना चाहिए. बिष्ट ने यह भी कहा कि महिला के आरोप संगीन हैं और इनके आधार पर भाजपा को भी विधायक के खिलाफ कार्रवाई करना चाहिए थी, लेकिन पार्टी भी बचने का रास्ता ही पकड़ रही है. पीड़िता के धरने को समर्थन देते हुए बिष्ट ने अन्य मामलों में भी पीड़ित व्यक्तियों को पूरी मदद देने का आश्वासन भी दिया.

ये भी पढ़ें : उत्तराखंड के 68% लोगों की राय- कुंभ आयोजन का फैसला था गैर ज़िम्मेदाराना: सर्वे

मीडिया से बच रहे हैं नेगी
बीजेपी विधायक महेश नेगी द्वाराहाट क्षेत्र में ही मौजूद हैं, लेकिन मीडिया के सामने आने से बच रहे हैं. इससे पहले भी जब विधायक से पीड़िता के दुष्कर्म के आरोपों और मांग के बारे में जब सवाल पूछे गए थे, तब भी उन्होंने मामला कोर्ट में होने की बात कहते हुए बात टालने की ही कोशिश की थी. इधर नेगी मीडिया से कतरा रहे हैं और उधर कांग्रेस पीड़ित महिला के बहाने भाजपा को इस मामले में घेरने की तैयारी में दिख रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.