होम /न्यूज /उत्तराखंड /अंकिता भंडारी हत्याकांड: अंतिम संस्कार करने से परिजनों का इनकार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट दिखाने की मांग

अंकिता भंडारी हत्याकांड: अंतिम संस्कार करने से परिजनों का इनकार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट दिखाने की मांग

अंकिता भंडारी के शव का पोस्टमार्टम ऋषिकेश एम्स में हुआ. ड्राफ्ट रिपोर्ट में ब्लंट फोर्स ट्राॅमा और डूबने की वजह से मौत की बात कही गई है. (Photo: Twitter)

अंकिता भंडारी के शव का पोस्टमार्टम ऋषिकेश एम्स में हुआ. ड्राफ्ट रिपोर्ट में ब्लंट फोर्स ट्राॅमा और डूबने की वजह से मौत की बात कही गई है. (Photo: Twitter)

अंकिता भंडारी हत्याकांड में एक बड़े घटनाक्रम में, मृतक के परिवार ने अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया, क्योंकि उन्हों ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

रिजाॅर्ट के कर्मचारी ने बताया कि 17 सितंबर को अंकिता ने उसे बुलाया था....वह रो रही थी
कर्मचारी के मुताबिक उसने अंकिता को 18 सितंबर को पुलकित के साथ जाते हुए देखा था
अंकिता का शव उसी नहर से बरामद हुआ, जिसमें आरोपियों ने धक्का देने की बात कबूली

ऋषिकेश: अंकिता भंडारी हत्याकांड में एक बड़े घटनाक्रम में, मृतक के परिवार ने अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया, क्योंकि उन्होंने प्रशासन से पहले पोस्टमार्टम रिपोर्ट सौंपने की मांग की थी. प्रशासन ने अंकिता के परिवार को समझाने की कोशिश की, लेकिन वे पीएम रिपोर्ट के बिना शव का अंतिम संस्कार नहीं करने पर अड़े रहे. अंकिता भंडारी के भाई अजय सिंह भंडारी ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, ‘जब तक उसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं दी जाती, हम अंतिम संस्कार नहीं करेंगे. हमने उसकी अस्थायी रिपोर्ट में देखा कि उसे पीटा गया और नहर में फेंक दिया गया. लेकिन हम अंतिम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं.’

अंकिता भंडारी हत्याकांड की जांच के लिए गठित एसआईटी की प्रभारी डीआईजी पीआर देवी ने एएनआई से कहा कि हमने रिजाॅर्ट के हर कर्मचारी को थाने बुलाया है…सबके बयान लेंगे. हम रिजॉर्ट की पृष्ठभूमि का पूरा विश्लेषण कर रहे हैं. अंकिता के व्हाट्सएप चैट्स की भी जांच की जा रही है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक एक व्हाट्सएप चैट सामने आया है, जिसमें अंकिता अपने दोस्त से कह रही है कि रिजॉर्ट का मालिक उस पर मेहमानों को ‘विशेष सेवा’ देने का दबाव बना रहा है. वनतारा रिजॉर्ट में स्पा ट्रीटमेंट देने के नाम पर ‘अतिरिक्त सेवा’ देने की बात चल रही है.


रिजाॅर्ट के एक कर्मचारी ने यह भी आरोप लगाया कि अंकिता भंडारी ने 17 सितंबर को उसे बुलाया था, वह रो रही थी और अपना बैग रिजाॅर्ट से बाहर निकालने के लिए कहा था. कर्मचारी ने यह भी पुष्टि की कि उसने 18 सितंबर की दोपहर करीब 3 बजे अंकिता को 3 अन्य लोगों के साथ देखा था. बाकी तीनों रिजाॅर्ट में लौटे, लेकिन अंकिता वापस नहीं आई. उसने यह भी पुष्टि की कि रिजाॅर्ट के मालिक पुलकित आर्य का भाई अंकित आर्य 18 सितंबर को सुबह 8 बजे आया था और उसने 4 लोगों के लिए रात का खाना बनाने की बात कही. उसने यह भी कहा कि वह अंकिता के कमरे में ही खाना खाएगा.

कर्मचारी द्वारा इसका विरोध किया गया, उसने कहा कि सर्विस बॉय रात का खाना बना सकता है. हालांकि, रिजाॅर्ट के सहायक ने आरोप लगाया कि अंकित कर्मचारियों को गुमराह करना चाहता था, क्योंकि अंकिता वापस नहीं आई थी. इससे पहले शनिवार को, अंकिता भंडारी हत्याकांड के आरोपी भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के स्वामित्व वाले ऋषिकेश के वनतारा रिजाॅर्ट में गुस्साए स्थानीय लोगों ने आग लगा दी थी. पौड़ी में प्रदर्शनकारियों ने जिलाधिकारी कार्यालय का घेराव भी किया. गत 18 सितंबर को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुई 19 वर्षीय अंकिता भंडारी का शव भी शनिवार को ऋषिकेश की चीला शक्ति नहर से बरामद किया गया.

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें