बागेश्वर में सडकों पर उतरी आगंनबाडी वर्कर्स

बागेश्वर जिला मुख्यालय में आगंनबाडी कार्यकत्रियों ने अपनी मांगों को लेकर प्रर्दशन किया. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि उनकी मांगों के प्रति सरकार और प्रशासन गंभीर नहीं है. इसलिए उन्हें प्रर्शन करने को मजबूर होना पड़ा. आंगनबाड़ी वर्कर्स का कहना है कि उन्हें राज्य कर्मचारी घोषित किया जाए.

Himanshu sagta | ETV UP/Uttarakhand
Updated: August 16, 2016, 3:57 PM IST
बागेश्वर में सडकों पर उतरी आगंनबाडी वर्कर्स
बागेश्वर जिला मुख्यालय में आगंनबाडी वर्कर्स का प्रर्शन
Himanshu sagta | ETV UP/Uttarakhand
Updated: August 16, 2016, 3:57 PM IST
बागेश्वर जिला मुख्यालय में आगंनबाडी कार्यकत्रियों ने अपनी मांगों को लेकर प्रर्दशन किया. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि उनकी मांगों के प्रति सरकार और प्रशासन गंभीर नहीं है. इसलिए उन्हें प्रर्शन करने को मजबूर होना पड़ा.

आंगनबाड़ी वर्कर्स का कहना है कि उन्हें राज्य कर्मचारी घोषित किया जाए. इसके अलावा सुपरवाइजर पदों पर शत प्रतिशत आगनबाडी वर्कर्स ली जाएं और सर्दी गर्मी की छुट्टी भी घोषित किए जाने की मांग की. जिले के विभिन्न क्षेत्रो से आयी आगनबाडी वर्कर्स ने विकास भवन के समीप सरयू पुल से जूलूस प्रर्दशन शुरू किया और कलेक्ट्रेट परिसर पहुंची. जहां उन्होंने अपनी मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी को दिया.

आंगनबाडी कार्यकत्रियों ने चेतावनी दी है कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो सभी आंगनबाड़ी वर्कर्स उग्र आन्दोलन के लिये बाध्य होंगी. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि उनकी लगातार अनदेखी की जा रही है. सरकार उनके प्रति संवेदनशील नहीं है. उनका वाजिब हक भी उन्हें नहीं दिया जा रहा है.
First published: August 16, 2016, 3:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...