होम /न्यूज /उत्तराखंड /बागेश्वर: घर के अंदर सो रहे परिवार पर अचानक गिरा मलबा, तीन लोग दबे, बच्चे की बच गई जान

बागेश्वर: घर के अंदर सो रहे परिवार पर अचानक गिरा मलबा, तीन लोग दबे, बच्चे की बच गई जान

गांव के ग्राम प्रधान मंगल रावत का कहना है कि देर रात एक मकान पर मलबा आया गया, जिससे तीन लोग दब गये.

गांव के ग्राम प्रधान मंगल रावत का कहना है कि देर रात एक मकान पर मलबा आया गया, जिससे तीन लोग दब गये.

आपदा अधिकारी शिखा ने कहा कि कई स्थानों पर सड़क (Road) टूटी है, जिसके कारण रेस्क्यू टीम को मौके पर पहुंचने में काफी कठिन ...अधिक पढ़ें

बागेश्वर. बागेश्वर जिले (Bageshwar District) के कपकोट के सुमगढ़ (sumgarh) में आसमानी आफत एक परिवार पर भारी पड़ गयी है. देर रात मकान के ऊपर मलबा गिरने से 3 लोग कई घंटों से उसके अंदर दबे हुऐ हैं. कहा जा रहा है कि इतनी देर होने जाने की वजह से उनके जिंदा होने की संभावना कम ही रह गयी है. गांव के लोग रेस्क्यू में लगे हुए हैं, लेकिन मलबा (Debris) काफी ज्यादा होने के कारण रेस्क्यू करने में सफलता नहीं मिल पा रही है. सड़क बंद और पैदल रास्ता होने के कारण कई घंटों के बाद रेस्क्यू टीम वहां पहुची है.


आपदा अधिकारी शिखा ने कहा कि कई स्थानों पर सड़क टूटी है, जिसके कारण रेस्क्यू टीम को मौके पर पहुंचने में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है. मौके पर पहुंची रेस्क्यू टीन ने बचाव अभियान शुरू कर दिया है. अब मलवे में दबे हुए लोगों को बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है. जानकारी के मुताबिक, कई स्थानों पर सड़क बंद पड़ी हुई थी, जिसको खोलते हुऐ रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची है.

घटना को आपदा ने फिर याद दिला दिया है
गांव के ग्राम प्रधान मंगल रावत का कहना है कि देर रात एक मकान पर मलबा आया गया, जिससे मकान में सो रहे तीन लोग दब गये. एक बच्चा बच गया, जिसने घटना के बारे में सूचना दी. उसके बाद गांव के लोगों ने रेस्क्यू अभियान चलाया, लेकिन अन्य दबे हुऐ लोगों को नहीं निकाला जा सका. प्रशासन को सूचना दे दी गई है. 8 घंटे बीतने के बाद रेस्क्यू की टीम मौके पर पहुंच गयी है. एक निजी स्कूल में मलबाआने से 18 बच्चों की मौत एक दशक पहले इसी गांव में हो गयी थी. जिस घटना ने सभी का दिल झकझोर कर दिया था. आज फिर उस गांव की घटना को आपदा ने फिर याद दिला दिया है.

Tags: Dehradun news, Land Slide, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें