Home /News /uttarakhand /

दबंगों के डर से 2 महीने तक घर से बाहर नहीं निकले बुजुर्ग दंपति, पागलों जैसी हुई हालत

दबंगों के डर से 2 महीने तक घर से बाहर नहीं निकले बुजुर्ग दंपति, पागलों जैसी हुई हालत

दंपति का उपचार कर रहे डॉ. कपिल तिवारी ने बताया कि बुजुर्ग दंपति को काफी बुरी हालत में अस्पताल लाया गया था. (सांकेतिक फोटो)

दंपति का उपचार कर रहे डॉ. कपिल तिवारी ने बताया कि बुजुर्ग दंपति को काफी बुरी हालत में अस्पताल लाया गया था. (सांकेतिक फोटो)

बिलौना वार्ड निवसाी 65 वर्षीय फौजी जमन सिंह (Jaman Singh) सेना से रिटायर्ड हैं. वे अपने घर में पत्नी के साथ रहते हैं. रविवार को उनकी पत्नी देवकी देवी की तबीयत खराब हो गई.

    बागेश्वर. उत्तराखंड की बागेश्वर (Bageshwar) में इंसानियत को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया है. यहां के बिलौना वार्ड (Billona Ward) में एक बुजुर्ग दंपति दबंगों के डर से पिछले दो महीने से घर में कैद थे. इस दौरान किसी ने उस दंपति (Couple) की मदद नहीं की. ऐसे में घर में कैद-कैद दंपति की हालत दयनीय हो गई है. उधर दंपति के बेटों का कहना है कि सितंबर में उनसे बातचीत हुई थी. दो महीने पहले ही उनकी बहन ने माता-पिता के स्वस्थ होने की जानकारी दी थी.

    जानकारी के मुताबिक, बिलौना वार्ड निवसाी 65 वर्षीय फौजी जमन सिंह सेना से रिटायर्ड हैं. वे अपने घर में पत्नी के साथ रहते हैं. रविवार को उनकी पत्नी देवकी देवी की तबीयत खराब हो गई थी. ऐसे में बदहवास हालात में उन्हें जिला अस्पताल भर्ती कराया गया. बुजुर्ग दंपति की हालत बेहद खराब थी. नाखून और बाल काफी बढ़े हुए थे. साथ ही कपड़े भी गंदे हो गए थे. कमजोरी की वजह से बुजुर्ग दंपति ठीक से बोल भी नहीं पा रहे थे. उधर, पड़ोसियों का कहना है कि सेना से रिटायर्ड बुजुर्ग अक्सर शराब पीकर गालीगलौज करते थे. इस वजह से सभी ने उसने किनारा कर लिया था.

    सीमेंट गायब था और मां के जेवर भी नहीं थे
    वहीं, दंपति के बड़े बेटे जगत सिंह नेगी ने बताया कि वह और उसका छोटा भाई दिल्ली में नौकरी करते हैं. जगत सिंह नेगी ने बताया कि शनिवार जैसे ही उन्हें अपने माता-पिता के बारे जानकारी मिली तो वे तुरंत घर के लिए निकल गए. घर पहुंचने पर उन्होंने देखा कि मां और पिता बदहाल हालत में हैं. वह बोलने की स्थिति में भी नहीं थे और कमरों के खिड़की और दरवाजे टूटे थे. घर में मकान की मरम्मत के लिए रखा लोहा और सीमेंट गायब था और मां के जेवर भी नहीं थे.

    बाहर नहीं निकलने की बात कही है
    जगत सिंह नेगी ने का कहना है कि वार्ड में रहने वाले कुछ दबंगों ने उनके परिवार की यह हालत की है. उन्होंने बताया कि दबंगों के डर से उसके माता-पिता को कमरे में कैद होने पर मजबूर होना पड़ा है. आसपास रहने वाले लोग भी दबंगों के डर के कारण उसके परिवार की मदद नहीं की. वहीं छोटे बेटे सुरेश सिंह नेगी ने फोन पर हुई बातचीत में गांधी नाम के एक शख्स पर पिता के रुपये ऐंठने का आरोप लगाया है. वहीं, अस्पताल में भर्ती देवकी देवी ने भी डर के मारे घर से बाहर नहीं निकलने की बात कही है.

    मनोचिकित्सक की मदद लेनी ही पड़ सकती है
    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दंपति का उपचार कर रहे डॉ. कपिल तिवारी ने बताया कि बुजुर्ग दंपति को काफी बुरी हालत में अस्पताल लाया गया था. उन्होंने बताया कि दोनों की मानसिक हालत सही नहीं है. सरसरी तौर पर देखने से लग रहा है कि उन्होंने चार या पांच हफ्ते से खाना नहीं खाया है. दोनों के शरीर में पानी की भी कमी हो गई है. दोनों के मानसिक उपचार के लिए मनोचिकित्सक की मदद लेनी ही पड़ सकती है.

    Tags: Couple, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर