Video: उत्तराखंड में बढ़ती गर्मी ने बढ़ाई जंगल में आग की घटनाएं

तापमान बढ़ने का असर अब जंगलों पर दिखाई देने लगा है. पूरे प्रदेश में हर रोज बड़ी संख्या में हो रही अग्नि दुर्घटनाओं से जंगल धूं-धूं कर जल रहे हैं. प्रदेश में अभी तक 195 अग्नि दुर्घटनाएं हो चुकी हैं, जिनमें करीब 257 हैक्टेयर वन क्षेत्रफल प्रभावित हुआ है. इसमें सबसे अधिक 139 अग्नि दुर्घटनाएं रिजर्व फारेस्ट में हुई हैं. विभाग ने अभी तक करीब चार लाख की क्षति का आकलन किया है. हालांकि, लगातार बढ़ते तापमान के मददेनजर वन विभाग अलर्ट पर है.अग्नि दुर्घटनाओं केा रोकने के लिए वन विभाग अग्निशमन विभाग से लेकर त्वरित सूचना के लिए 108 की मदद भी ले रहा है.

Sunil Navprabhat | ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 16, 2017, 4:34 AM IST
Sunil Navprabhat
Sunil Navprabhat | ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 16, 2017, 4:34 AM IST
तापमान बढ़ने का असर अब जंगलों पर दिखाई देने लगा है. पूरे प्रदेश में हर रोज बड़ी संख्या में हो रही अग्नि दुर्घटनाओं से जंगल धूं-धूं कर जल रहे हैं. प्रदेश में अभी तक 195 अग्नि दुर्घटनाएं हो चुकी हैं, जिनमें करीब 257 हैक्टेयर वन क्षेत्रफल प्रभावित हुआ है. इसमें सबसे अधिक 139 अग्नि दुर्घटनाएं रिजर्व फारेस्ट में हुई हैं. विभाग ने अभी तक करीब चार लाख की क्षति का आकलन किया है. हालांकि, लगातार बढ़ते तापमान के मददेनजर वन विभाग अलर्ट पर है.अग्नि दुर्घटनाओं केा रोकने के लिए वन विभाग अग्निशमन विभाग से लेकर त्वरित सूचना के लिए 108 की मदद भी ले रहा है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...