लाइव टीवी

लापरवाही: कॉलेज कैंपस में अचानक उतार दिया चॉपर, हो सकता था बड़ा हादसा

News18 Uttarakhand
Updated: March 4, 2019, 6:11 PM IST

जिस समय चॉपर ने मैदान में लैंडिंग की उस समय वहां पांच सौ से अधिक बच्चे मौजूद थे. ऐसे में बिना किसी सुरक्षा इंतजाम के लैंडिंग की वजह से बड़ा हादसा हो सकता था.

  • Share this:
उत्तारखंड में बागेश्वर के राजकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय के खेल स्टेडियम में उस समय हड़कंप मच गया, जब अचानक एक चॉपर खेल परिसर में उतर गया. अचानक चॉपर के उतरने से प्रशासन के भी हाथ पांव फूल गए. आनन-फानन में कोतवाल टीआर वर्मा मौके पर पहुंचे और उन्हेांने चॉपर को अपने कब्जे में ले लिया. जिस समय चॉपर ने मैदान में लैंडिंग की, उस समय वहां पांच सौ से अधिक बच्चे मौजूद थे. ऐसे में बिना किसी सुरक्षा इंतजाम के लैंडिंग की वजह से बड़ा हादसा हो सकता था.

पायलट से पूछने पर वह कर्नल होने की धौंस देने लगा. इस पर पायलट और कोतवाल टीआर वर्मा में बहस भी हुई. जब इस बारे में जिलाधिकारी रंजना राजगुरु से बात की गई तो उन्होंने बताया कि एविएशन कंपनी को गरुड़ तहसील के उपजिलाधिकारी की ओर से उड़ान की सशर्त अनुमति दी गई है. कंपनी ने शर्तों का पालन किया है या नहीं, इसकी रिपोर्ट मंगवाई गई है.

सूत्रों के मुताबिक अनुमति का कोई पत्र फिलहाल जिला प्रशासन के पास नहीं है. मामले में चॉपर पायलट कोई भी जानकारी देने के लिए तैयार नहीं है. जिला प्रशासन ने बताया कि मामला बेहद गंभीर है. मामले की जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा.

(जगदीश चंद्र की रिपोर्ट)



ये भी पढ़ें- हरिद्वार में स्क्वाड्रन लीडर सिद्धार्थ वशिष्ठ की अस्थियों को किया गया विसर्जित

ये भी पढ़ें:- VIDEO: रिटायर्ड डीआईजी ने कहा- 'मातृभूमि सबसे पहले, देश है तो हमलोग हैं'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बागेश्‍वर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 4, 2019, 10:30 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...