लाइव टीवी

बागेश्वर में सात बूथ 8 किमी दूर, चुनाव कराना प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती

News18 Uttarakhand
Updated: March 22, 2019, 10:57 PM IST
बागेश्वर में सात बूथ 8 किमी दूर, चुनाव कराना प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती
रंजना राजगुरु, जिला निर्वाचन अधिकारी

लोकसभा चुनाव में जिला मुख्यालय से अधिक दूरी वाले बूथों में मतदान कराना प्रशासन के लिए काफी चुनौतीपूर्ण होने वाला है.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव में जिला मुख्यालय से अधिक दूरी वाले बूथों में मतदान कराना प्रशासन के लिए काफी चुनौतीपूर्ण होने वाला है. बागेश्वर जिले में करीब सात-आठ बूथ ऐसे हैं, जहां की दूरी आठ किमी से अधिक है. कपकोट विधानसभा के बोराचक झारकोट सबसे अधिक दूरी वाला बूथ है. यहां की दूरी 12 किमी है. दूसरे नंबर पर बागेश्वर विधानसभा की गरुड़ तहसील का बूथ दाबू है, जिसकी दूरी 10 किमी है. अन्य दूरी वाले पोलिंग बूथ भी करीब सात से आठ किमी है.

मौसम, भौगोलिक परिस्थिति और पैदल मार्ग के चलते यहां पर मतदान कराना प्रशासन के लिए मुश्किलों भरा होगा. यहां चुनाव संपन्न कराने के लिए पोलिंग पार्टियां भी दो दिन पहले रवाना हो जाएंगी.

जिला निर्वाचन अधिकारी रंजना राजगुरु ने कहा कि डिस्ट्रिक्ट इलेक्शन मैनेजमेंट द्वारा पोलिंग की योजना बनाई जा रही है. पोलिंग पार्टी कितने दिन पहले मतदान केंद्र पर जाएगी और उन्हें किस तरह पहुंचाया जाएगा, इस पर विचार किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हर तरह के संचार व्यवस्था को उपलब्ध रखने की कोशिश की जा रही है. हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है.

(बागेश्वर से जगदीश चंद्र की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें - राष्ट्रवाद पर ही चुनाव लड़ेगी बीजेपी, टिहरी प्रत्याशी के नामांकन में शामिल CM ने कार्यकर्ताओं को दिया मंत्र

ये भी देखें - VIDEO : बसपा सहित चार प्रत्याशियों ने नैनीताल लोकसभा सीट से किया नामांकन

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बागेश्‍वर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2019, 10:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...