बागेश्वर में कालेज का नाम पूर्ववत रखने की मांग को लेकर प्रदर्शन

उत्तराखंड के बागेश्वर में राजकीय इंटर कालेज बोहाला का नाम पूर्ववत रखे जाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने कठपुड़ियाछीना में सांकेतिक चक्का जाम किया. उन्होंने इंटर कालेज का नाम स्व. राम सिंह मेहता के नाम पर रखे जाने पर आपत्ति दर्ज की.

Himanshu sagta | ETV UP/Uttarakhand
Updated: August 30, 2016, 8:37 PM IST
बागेश्वर में कालेज का नाम पूर्ववत रखने की मांग को लेकर प्रदर्शन
Photo Courtesy- ETV
Himanshu sagta | ETV UP/Uttarakhand
Updated: August 30, 2016, 8:37 PM IST
उत्तराखंड के बागेश्वर में राजकीय इंटर कालेज बोहाला का नाम पूर्ववत रखे जाने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने कठपुड़ियाछीना में सांकेतिक चक्का जाम किया. उन्होंने इंटर कालेज का नाम स्व. राम सिंह मेहता के नाम पर रखे जाने पर आपत्ति दर्ज की.

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार अभिभावक समिति के अध्यक्ष नरेंद्र रावत के नेतृत्व में ग्रामीणों ने कठपुड़ियाछीना में सांकेतिक रूप से चक्का जाम किया. जाम और प्रदर्शन की सूचना पर बागेश्वर से उपजिलाधिकारी फिंचाराम चौहान कठपुड़ियाछीना पहुंचे और आंदोलनकारियों से वार्ता की. उन्होंने इस संबंध में शासन को अवगत कराने का आश्वासन दिया. ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी को मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन भेजा.

स्व. राम सिंह मेहता की पत्‍‌नी सरूली देवी उनके पति के नाम का विरोध करने पर व्यथित है. सरूली देवी ने कहा कि उनके पति राइंका बोहाला में थे और जब वे उत्तर पुस्तिका ले जा रहे थे तो वाहन दुर्घटना में उनकी मौत हुई. जिसे समझते हुए मुख्यमंत्री ने विद्यालय का नाम राम सिंह के नाम पर रखा. उन्होंने कहा कि बोहाला के 12 ग्राम प्रधान, तीन क्षेत्र पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य की अनापत्ति है परंतु कुछ लोग इसका विरोध कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि विद्यालय के कक्षा 6 से 12 तक के गरीब बच्चों की पढ़ाई का खर्च मैंने स्वयं वहन करने की घोषणा पूर्व में की है.

विद्यालय का नाम मुख्यमंत्री की ओर से रखा गया है. नाम परिवर्तन का फैसला भी मुख्यमंत्री को ही लेना है. इस मामले में मैं शीघ्र मुख्यमंत्री से मिलूंगा व जनता की भावनाओं से उन्हें अवगत कराउंगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बागेश्‍वर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2016, 8:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...