लाइव टीवी

सहकारी बैंकों में भर्ती के लिए परीक्षा केंद्र राज्य से बाहर बनाया जाना शर्मनाक : प्रदीप टम्टा

News18 Uttarakhand
Updated: June 12, 2019, 6:02 PM IST
सहकारी बैंकों में भर्ती के लिए परीक्षा केंद्र राज्य से बाहर बनाया जाना शर्मनाक : प्रदीप टम्टा
प्रदीप टम्टा, राज्यसभा सांसद

उत्तराखंड के सहकारी बैंकों में भर्ती के लिए परीक्षा केंद्र राज्य से बाहर बनाए जाने को राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने शर्मनाक बताया है.

  • Share this:
उत्तराखंड के सहकारी बैंकों में भर्ती के लिए परीक्षा केंद्र राज्य से बाहर बनाए जाने को राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने शर्मनाक बताया है. उन्होंने कहा कि गरीब युवाओं के साथ राज्य सरकार मजाक कर रही है. टम्टा ने कहा कि सहकारी बैंक की परीक्षा का राज्य से बाहर होना परीक्षा की निष्पक्षता पर सवाल खड़े करता है. उन्होंने कहा कि उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, बागेश्वर समेत तमाम दूरदराज क्षेत्र के बच्चों को परीक्षा के लिए दिल्ली, लखनऊ, चंडीगढ़, बरेली, मेरठ तक की दौड़ लगानी होगी.

संशोधन करे राज्य सरकार
प्रदीप टम्टा ने जानना चाहा कि जब राष्ट्रीय बैंकों की परीक्षा के लिए राज्य में ही केंद्र बनाए जाते हैं, तो राज्य के को-ऑपरेटिव बैंकों में भर्ती के लिए बाहर परीक्षा केंद्र बनाने का क्या औचित्य है. उन्होंने कहा कि तत्काल राज्य सरकार को इसे संशोधित कर समाप्त कर देना चाहिए.

परीक्षा कैसे निष्पक्ष होगी ?

प्रदीप टम्टा ने कहा कि एजेंसी ये क्यों नहीं बता रही है कि उत्तराखंड के अंदर आयोजित होने वाली परीक्षा निष्पक्ष नहीं होगी. उन्होंने कहा कि प्राइवेट एजेंसी को परीक्षा कराने की जिम्मेदारी देना सही नहीं है जब खुद की एजेंसी आपके पास मौजूद हो. उन्होंने जानना चाहा कि सहकारी बैंकों में भर्ती के लिए उत्तराखंड से बाहर होने वाली परीक्षा कैसे निष्पक्ष होगी. उन्होंने कहा कि आखिर ऐसी क्या वजह है कि ये परीक्षा उत्तराखंड के अंदर आयोजित नहीं की जा सकती है.

(बागेश्वर से जगदीश चंद्र की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें - प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी की मंत्रिमंडल विस्तार की मांग
Loading...

ये भी देखें - मसूरी में सैलानियों से वसूले जा रहे मनमाना पार्किंग शुल्क

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बागेश्‍वर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 12, 2019, 6:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...