शेयर मार्केट में पैसा दोगुना करने के नाम पर ठगी, इंदौर से दो गिरफ्तार

बागेश्वर की थाना बैजनाथ पुलिस ने फर्जी कंपनी के जरिये शेयर मार्केट में धन निवेश कर उसे दोगुना किये जाने के आरोप में दो ठगों को मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में जाकर पकड़ा है.

News18 Uttarakhand
Updated: June 13, 2019, 4:56 PM IST
शेयर मार्केट में पैसा दोगुना करने के नाम पर ठगी, इंदौर से दो गिरफ्तार
बागेश्वर पुलिस ने इंदौर जाकर दो ठग को गिरफ्तार किया.
News18 Uttarakhand
Updated: June 13, 2019, 4:56 PM IST
बागेश्वर पुलिस ने पैसे दोगुना करने के आरोप में दो ठगों को गिरफ्तार किया है. थाना बैजनाथ पुलिस ने फर्जी कंपनी के जरिये शेयर मार्केट में धन निवेश कर उसे दोगुना किये जाने के आरोप में दोनों ठगों को मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में जाकर पकड़ा है. इन ठगों में से एक एमबीए डिग्री धारक है. बागेश्वर के पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह ने बताया कि इस ठगी मामले की रिपोर्ट 30 मई को दीप वर्मा नामक व्यक्ति ने बैजनाथ थाना में दर्ज कराई थी. उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता के अनुसार एक ऐसा गिरोह सक्रिय है जो लोगों को फोन कर शेयर मार्केट में पैसे निवेश करने की बात करता है. फोन पर वे लोगों से यही कहते हैं कि शेयर मार्केट में पैसे निवेश करने के बाद उनके पैसे दोगुने हो जाएंगे. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि रिपोर्ट दर्जे करने के बाद जांच पड़ताल में पता चला कि गिरोह के दो सदस्य इंदौर के रहने वाले हैं.

ट्रांजिट रिमांड पर लाया गया बागेश्वर


एसपी ने कहा कि इसके बाद पुलिस की एक टीम इंदौर गई और दोनों आरोपियों को 9 जून को गिरफ्तार कर लिया गया. उन्होंने कहा कि दोनों अभियुक्तों को ट्रांजिट रिमांड पर बागेश्वर लाया गया है. अब उन्हें न्यायालय में पेश करने की प्रक्रिया चल रही है. उन्होंने कहा कि पुलिस की पूछताछ में गिरफ्तार आरोपियों में से एक अश्विन एमबीए डिग्री धारक है. वह ट्रेड प्राइम रिसर्च कंसलटेंट कंपनी में काम किया करता था. लेकिन इस कंपनी में काम छोड़ने के बाद उसने अपने साथी के साथ मिलकर इसी नाम से एक फर्जी कंपनी खोल ली.

फर्जी कंपनी के जरिये धोखाधड़ी

इस फर्जी कंपनी के जरिये ही दोनों मिलकर लोगों के साथ धोखाधड़ी किया करते थे. दोनों ग्राहकों को शेयर मार्केट में ऑनलाइन पैसे जमा करने के लिए प्रेरित करते थे. दोनों लोगों को यही प्रलोभन देते थे कि उनके पैसे बहुत जल्द ही दोगुने हो जाएंगे. इन दोनों के समझाने और प्रलोभन देने पर जो लोग झांसे में आ जाते थे, ये उनसे अपने खाते में पैसा डलवा लिया करते थे. लेकिन खाते में पैसे जमा होने के तुरंत बाद ही फोन नंबर व खातों को बंद कर देते थे.

(बागेश्वर से जगदीश चंद्र की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें - बद्रीनाथ हाईवे से लगे जंगल की आग में वन संपदा का भारी नुकसान
Loading...

ये भी देखें - बद्रीनाथ हाईवे से लगे जंगल की आग में वन संपदा का भारी नुकसान

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...