Black Fungus: उत्तराखंड में भी महामारी घोषित, CM तीरथ रावत बोले- तीसरी लहर में बच्चों पर हो फोकस

उत्तराखंड में ब्लैक फंगस महामारी घोषित.  (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

उत्तराखंड में ब्लैक फंगस महामारी घोषित. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Uttarakhand News: कोरोना  संकट के बीच उत्तराखंड सरकार ने अब ब्लैक फंगस (Black Fungus) के महामारी घोषित कर दिया है.

  • Share this:

देहरादून. हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद अब उत्तराखंड (Uttarakhand) सरकार ने भी ब्लैक फंगस (Black Fungus) को महाारी घोषित कर दिया है. प्रभारी सचिव पंकज पांडेय ने इसके तहत नोटिफिकेशन जारी कर दिया है. अब सूबे में महामारी के प्रोटोकॉल के तहत ब्लैक फंगस के मरीजों का इलाज होगा.  इधर, प्रदेश में कोविड की स्थिति की समीक्षा करने के लिए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की.

इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को अहम निर्देश दिए. कोरोना संक्रमण की वजह से अपने परिजनों को खो चुके बच्चों के लिए सरकार एक अलग स्कीम बनाएगी. इसके लिए अभियान चलाकर ऐसे बच्चों की पहचान की जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि तीसरी लहर की तैयारी के लिए जमीन स्तर पर काम करें. तीसरी लहर में बच्चों पर फोकस करना होगा. सभी डीएम गांव के मुताबिक एक प्लान तैयार करेंगे.

सरकार का अहम फैसला

कोरोना महामारी के दौरान बंद शैक्षिक संस्थानों को लेकर उत्तराखंड सरकार  ने बड़ा फैसला लिया है. कोरोना की वजह से बंद और ऐसे में स्कूलों को सिर्फ ट्यूशन फीस  लिए जाने का आदेश दिया गया है. शिक्षा विभाग की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि देरी से फीस देने पर किसी भी विद्यार्थी को स्कूलों से बाहर नहीं निकाला जाएगा. जो बच्चे ऑन लाइन क्लास ले रहे हैं सिर्फ उनसे ही ट्यूशन फीस ली जाएगी.
.ये भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में Black Fungus महामारी घोषित, सरकारी अस्पतालों में होगा मुफ्त इलाज

दरअसल, पिछले शिक्षा सत्र की तरह ही इस साल भी कोरोना के कारण स्कूलों को खोला नहीं जा सका है. कोरोना की दूसरी लहर से जो संक्रमण व्यापक तरीके से फैला है उस कारण अभी स्कूलों के खोले जाने को लेकर संशय बना हुआ है. ऐसे में निजी स्कूलों की ओर से बच्चों के अभिभावकों को फीस भरने को लेकर दबाव बनाने की सूचनाएं लगातार आ रहीं थीं. इसी को लेकर उत्तराखंड सरकार से फीस वृद्धि को लेकर दिशा निर्देश जारी कर दिए. उत्तराखंड शिक्षा विभाग ने जो नया आदेश जारी किया उसमें कोविड के चलते बन्द स्कूलों को सिर्फ लेंगे ट्यूशन फीस ही लिए जाने को कहा गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज