चमोली में 2308 परिवारों को अब तक विद्युतीकरण का लाभ नहीं

जनपद चमोली की करें तो यहां 443 तोक ऐसे है जहां आज भी 2308 परिवारों को विद्युतीकरण का लाभ नहीं मिल पाया है.यही नहीं कुछ गांव ऐसे भी हैं जहां विद्युतीकरण के नाम पर पोल लगा दिए मगर विद्युत सुविधा आज तक नहीं मिल पाई है.

Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: August 6, 2018, 10:04 PM IST
चमोली में 2308 परिवारों को अब तक विद्युतीकरण का लाभ नहीं
चमोली का एक मनमोहक दृश्य
Prabhat Purohit
Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: August 6, 2018, 10:04 PM IST
हर घर में रोशनी हो इसके लिए केंद्र सरकार द्वारा दीनदयाल उपाध्याय विद्युत योजना और सौभाग्य जैसी महत्वपूर्ण योजनाएं संचालित की जा रही हैं.प्रधानमंत्री से लेकर केंद्र के अनेक मंत्री अपने भाषणों में देश के तमाम गांवों के विद्युतीकरण की बात शान से करते हैं.मगर सिस्टम की लापरवाही के चलते इसका लाभ आम जनता तक पहुंचने में देरी हो रही है.बात जनपद चमोली की करें तो यहां 443 तोक ऐसे है जहां आज भी 2308 परिवारों को विद्युतीकरण का लाभ नहीं मिल पाया है.यही नहीं कुछ गांव ऐसे भी हैं जहां विद्युतीकरण के नाम पर पोल लगा दिए मगर विद्युत सुविधा आज तक नहीं मिल पाई है.

दीनदयाल योजना के तहत चयनित इन तोकों में विद्युतीकरण करने के लिए आठ माह पूर्व टेंडर प्रक्रिया हो जानी थी मगर कभी ब्लॉक स्तर कभी जिला स्तर तो कभी मुख्यालय स्तर पर टेंडर प्रक्रिया होने की बात कही जाती रही है.मगर जिस तरह से सरकारी मशीनरी काम कर रही है उससे लगता नहीं की ग्रामीणों को इस योजना का लाभ नियत समय में मिल पाएगाक्योंकि आज भी कई ग्रामीण इलाके ऐसे हैं जहां विद्युतीकरण तो हो रखा है मगर लोगों को कनेशक्सन नहीं मिले हैं.13957 परिवार ऐसे ही हैं जिन्हें विभाग अब सौभाग्य योजन के तहत लाभन्वित करने की बात कह रहा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर