Home /News /uttarakhand /

डॉक्टरों को पहाड़ पर थामने के लिए अब दिए जाएंगे बंगले!

डॉक्टरों को पहाड़ पर थामने के लिए अब दिए जाएंगे बंगले!

पहाड़ी क्षेत्रों में डॉक्टरों की कमी को दूर करने की रणनीति में लगे स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र नेगी की पहल

पहाड़ी क्षेत्रों में डॉक्टरों की कमी को दूर करने की रणनीति में लगे स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र नेगी की पहल

पर्वतीय क्षेत्रों में डॉक्टर्स को भेजने के लिए स्वास्थ्य महकमा हर तरह की तरकीब अपना रहा है. अब 16 करोड़ रुपये की लागत से डॉक्टर्स के रहने के लिए पर्वतीय क्षेत्रों में आवासीय भवन बनाये जायेंगे. जिससे ड़ॉक्टर्स को पर्वतीय इलाकों में रहने में कोई असुविधा ना हो. मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकें.

अधिक पढ़ें ...
पर्वतीय क्षेत्रों में डॉक्टर्स को भेजने के लिए स्वास्थ्य महकमा हर तरह की तरकीब अपना रहा है. अब करोड़ों की लागत से डॉक्टर्स के रहने के लिए पर्वतीय क्षेत्रों में आवासीय भवन बनाये जायेंगे. जिससे ड़ॉक्टर्स को पर्वतीय इलाकों में रहने में कोई असुविधा ना हो.

मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकें. सुरेन्द्र सिंह नेगी स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि एनएचएम के फंड से भवनों का निर्माण कराया जायेगा. साथ ही पीएचसी और सीएचसी के भवनों का निर्माण कराये जायेगा.

इस तरह से सरकार की कोशिश है कि पर्वतीय क्षेत्रों में हर कीमत पर स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाया जा सकें. इसके लिए सरकार हर संभव काम कर रही है. दरअसल पर्वतीय क्षेत्रों में रहने वाले डॉक्टर्स को सरकार अतिरिक्त भत्ता उपलब्ध करा रही है. एनपीए का लाभ दिया जा रहा है. साथ ही अब सरकार ने उनके रहने के लिए व्यवस्था करने का फैसला किया है. जिससे डॉक्टर वहां मरीजों का बेहतर तरीके से इलाज कर सकें.

मगर सबसे हैरत की बात है कि प्रदेश में पर्वतीय क्षेत्रों के अस्पतालों में डॉक्टर्स की कमी दूर होने का नाम नहीं ले रही है. फिलहाल जिस तरह से सरकार लगातार डॉक्टर्स को उपलब्ध करा रही है, ऐसे में देखना काफी दिलचस्प होगा कि बंगले का आकर्षण कितने ड़़ॉक्टरों को पर्वतीय क्षेत्रों का रुख करते हैं.

Tags: Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर