गैरसैंण : आंदोलनकारियों की रिहाई की मांग को लेकर धरने पर बैठे पूर्व सीएम हरीश रावत

स्थायी राजधानी गैरसैंण के नाम पर एक बार फिर सियासत तेज हो गई है. कांग्रेस सरकार के समय में जहां भाजपा के लिए ये मुद्दा रहा, वहीं अब भाजपा सरकार में कांग्रेस के लिए यह मुद्दा है.

Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: July 12, 2019, 5:54 PM IST
Prabhat Purohit
Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: July 12, 2019, 5:54 PM IST
स्थायी राजधानी गैरसैंण के नाम पर एक बार फिर सियासत तेज हो गई है. कांग्रेस सरकार के समय में जहां भाजपा के लिए ये मुद्दा रहा, वहीं अब भाजपा सरकार में कांग्रेस के लिए यह मुद्दा है. दरअसल मार्च 2018 में स्थायी राजधानी की मांग कर रहे आंदोलनकारियों द्वारा एनएच जाम व गैरसैंण के भराड़ीसैण में चल रहे विधानसभा सत्र के दौरान घेराव की कोशिश के चलते प्रशासन द्वारा 38 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था. इसी मामले में 35 आंदोलनकारियों को बुधवार को गिरफ्तार किया गया. लेकिन अब इस मामले को हरीश रावत कांग्रेस के लिए संजीवनी बनाने की जुगत में लगे हैं.

रामलीला मैदान में जनसभा की



हरीश रावत आज भारी संख्या में समर्थकों व पार्टी विधायकों व पूर्व मंत्रियों के साथ गैरसैंण पहुंचे. उन्होंने प्रदेश सरकार के खिलाफ रामलीला मैदान में जनसभा की. इसके बाद वह सैकड़ों की संख्या में समर्थकों के साथ तहसील परिसर में गिरफ्तारी देने पहुंचे. हरीश रावत यहां अपने समर्थकों के साथ तहसील परिसर में ही धरने पर बैठ गए हैं.

गैरसैंण - सैकड़ों की संख्या में समर्थकों के साथ तहसील परिसर में गिरफ्तारी देने पहुंचे हरीश रावत.


अब हरीश रावत को प्रशासन द्वारा मनाने की कोशिश की जा रही है. लेकिन पूर्व सीएम हरीश रावत का कहना है कि जब तक जेल में बंद आंदोलनकारियों को रिहा नहीं किया जाता है तब तक वे वहीं धरने पर बैठे रहेंगे.

आंदोलनकारियों को मिला भाजपा विधायक का समर्थन

गैरसैंण को भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल ने उत्तराखंड का दिल बतलाया.

Loading...

गैरसेैंण पर अब बीजेपी से झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल का बयान आया है. नैनीताल पहुंचे देशराज कर्णवाल ने गैरसेैंण को राज्य का दिल बताकर आंदोलनकारियों का धरना जायज करार दिया है. नैनीताल में देशराज कर्णवाल ने कहा कि वो चार धाम व गैरसैंण सत्र के दौरान बाइक से यात्रा कर चुके हैं. उन्होंने गैरसैंण को राज्य का दिल बताया. कर्णवाल ने कहा कि ये सवाल बड़ा है. इस पर पार्टी और मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत जो निर्णय लेंगे वो ठीक होगा.

ये भी पढ़ें - मेरी शिकायत सोशल मीडिया पर नहीं, राहुल गांधी से करें- प्रीतम

ये भी पढ़ें - पर्वतीय राज्यों की समस्याओं का करेंगे समाधान- सीएम
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...