लाइव टीवी

गैरसैंण को मिले कोरे आश्वासन, विधायकों, मंत्रियों का वेतन दोगुने से ज़्यादा

Mukesh Kumar | News18 Uttarakhand
Updated: March 27, 2018, 3:06 PM IST
गैरसैंण को मिले कोरे आश्वासन, विधायकों, मंत्रियों का वेतन दोगुने से ज़्यादा
विधायकों का वेतन अब लगभग एक लाख रुपये हो गया है. भत्ते आदि मिलाकर विधायकों को ढाई से पौने तीन लाख रुपये तक मिलेंगे.

  • Share this:
गैरसैंण को भले ही कुछ न मिला हो नेताजी मालामाल हो गए हैं. विधायकों का वेतन अब मुख्य सचिव के बराबर हो गया है. उत्तराखंड विधानसभा विविध संशोधन विधेयक को आज सत्र के दौरान मंजूरी मिल गई है. विधायकों का वेतन अब लगभग एक लाख रुपये हो गया है. भत्ते आदि मिलाकर विधायकों को ढाई से पौने तीन लाख रुपये तक मिलेंगे.

सोमवार को गैरसैंण सदन में विधायकों, मंत्रियों के वेतन में बढ़ोत्तरी का विधेयक पास कर दिया गया. एक अप्रैल से विधेयक की शर्तें लागू होंगी.

शनिवार को गैरसैंण में आयोजित बजट सत्र में उत्तराखंड राज्य विधानसभा विविध (संशोधन विधेयक 2018) रखा गया था. रविवार को सदन नहीं चलाया गया. सोमवार को यह विधेयक सदन में पास कर दिया गया.

हालांकि बिल पेश होने के बाद इसे अभी सबके सामने नहीं लाया गया है. लेकिन पुष्ट सूत्रों के मुताबिक, विधायकों का वेतन अब दस हजार से बढ़कर तीस हजार, भत्ता 60 हजार से बढ़कर डेढ़ लाख, चालक भत्ता डेढ़ हजार से 12 हजार, ईंधन-रेलवे कूपन दो लाख 70 हज़ार से तीन लाख 25 हज़ार हो गया है. वहीं दैनिक भत्ता दो हज़ार से तीन हज़ार, सचिव भत्ता दो हजार से 12 हज़ार कर दिया गया है.

अब प्रदेश में मंत्रियों का वेतन 45 हजार से बढ़कर 90 हज़ार हो गया है. साथ ही भत्त्ता 42 से 84 हज़ार हो गया है. विधानसभा अध्यक्ष का वेतन अब 54 हजार से बढ़कर 1 लाख 10 हज़ार हो गया है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चमोली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 27, 2018, 11:36 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...