लाइव टीवी

गुप्ता बंधु शाही शादी मामला: HC के निर्देश के बाद हटाया गया 240 क्विंटल कचरा

News18 Uttarakhand
Updated: June 26, 2019, 10:56 AM IST
गुप्ता बंधु शाही शादी मामला: HC के निर्देश के बाद हटाया गया 240 क्विंटल कचरा
गुप्ता ब्रदर्स शाही शादी मामला: HC के निर्देश के बाद अब तक हटाया गया 240 क्विंटल कचरा

उत्तराखंड में पिछले हफ्ते औली के स्की रिसॉर्ट में अपने बेटों की हाई-प्रोफाइल शादी करने के बाद जोशीमठ नगर पालिका ने साइट से 240 क्विंटल कचरा एकत्र किया है.

  • Share this:
उत्तराखंड में पिछले हफ्ते औली के स्की रिसॉर्ट में एनआरआई गुप्ता परिवार के बेटों के हाई-प्रोफाइल और महंगे शादी समारोह स्थल से 240 क्विंटल कचरा एकत्र किया है. जोशीमठ नगर पालिका ने साइट से कचरे को इस ढेर को हटाने के लिए हर दिन 3 से 4 ट्रकों को इस काम में लगाया है. वहीं संबंधित अधिकारियों ने कहा कि औली विवाह स्थल को 30 जून तक साफ कर दिया जाएगा. इसकी सफाई में लगभग 30 मजदूर जुटे हैं.

इधर, मामले में जोशीमठ के उप-विभागीय मजिस्ट्रेट वैभव गुप्ता ने कहा कि हाईकोर्ट में इस मामले में आगामी 8 जुलाई को अगली सुनवाई होगी. इसमें 3 करोड़ रुपए की जमानत राशि के रिफंड का मुद्दा तय किया जाएगा.

क्या है पूरा मामला 

बता दें कि शादी से बहुत पहले, भारतीय मूल के दक्षिण अफ्रीकी कारोबारी बंधुओं अजय और अतुल गुप्ता ने चमोली जिला प्रशासन के साथ हाईकोर्ट के आदेशों के अनुसार 3 करोड़ रुपए जमा किए थे.

54 हजार रुपए जमा करा चुका है गुप्ता परिवार

वहीं जोशीमठ नगर पालिका के कार्यकारी अधिकारी एस.पी. नौटियाल ने कहा कि गुप्ता फैमिली यूजर चार्ज के रूप में ने 54 हजार रुपए पहले ही जमा करा चुका है. वहीं हाईकोर्ट के आदेशों के मुताबिक वन विभाग, राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, चमोली जिला प्रशासन, उत्तराखंड जल संस्थान, राजस्व विभाग और लोक निर्माण विभाग के 13 अधिकारियों के एक समूह ने शादी की निगरानी और वीडियोग्राफी की है.

मेहमानों को कारों से पहुंचाया गया था विवाह स्थल
Loading...

इसके अलावा शीर्ष अधिकारियों ने कहा कि वो औली के वनस्पतियों और जीवों को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते. बता दें कि अदालत ने औली में हेलिकॉप्टरों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी थी, इसलिए हेलिकॉप्टर जोशीमठ हेलीपैड के पास रविग्राम में उतरे, जहां से मेहमानों को कारों से विवाह स्थल तक पहुंचाया गया था.

CM समेत कई VIP गेस्ट हुए थे शामिल

अदालत ने शादी में जुटने वाले मेहमानों की संख्या 150 तय की थी. गेस्ट लिस्ट में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, योग गुरु बाबा रामदेव समेत अन्य वीआईपी लिस्ट में शामिल थे, जिन्होंने नवविवाहित जोड़े को आशीर्वाद दिया था. शादी में कैटरीना कैफ समेत बॉलीवुड सितारों ने इस शाही शादी में परफॉर्म किया था. 

पर्यावरणीय चिंताएं उचित नहीं

बहरहाल, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने विवाह का बचाव करते हुए कहा कि पर्यावरणीय चिंताएं उचित नहीं हैं. उन्होंने कहा कि औली को एक बड़े पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जा सकता है. 

ये भी पढ़ें:- चमोली : धोली नदी किनारे चट्टान पर फंसी गाय को किया रेस्क्यू

ये भी पढ़ें:- कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर सदन में कांग्रेस का हंगामा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चमोली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 26, 2019, 10:09 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...