लाइव टीवी
Elec-widget

International Women's Day: पोलियो को नजरअंदाज कर जीवन में इस तरह आगे बढ़ रही गुड्डी कनवासी

Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: March 8, 2019, 2:22 PM IST

गुड्डी जब डेढ़ साल की थी तब उन्हें पोलियो का पता चला और तब से लेकर अब तक उन्होंने जीवन को सकारात्मक लेते हुए अपना खुद का बुटीक एवं ब्यूटी पार्लर खोला है.

  • Share this:
कहते हैं कि अगर किसी में आगे बढ़ने की लगन हो तो फिर विपरीत परिस्थितियां भी उसके आगे घुटने टेक देती है. कुछ ऐसा ही कर दिखाने का काम कर रही है उत्तराखंड के चमोली जिले में रहने वाली दिव्यांग गुड्डी कनवासी. अपने मजबूत इरादों की बदौलत गुड्डी कनवासी न सिर्फ आगे बढ़ी बल्कि दूसरों के लिए भी रोजगार बढ़ाने का काम कर रही हैं.

दरअसल, जनपद चमोली के गौचर नगर में गुड्डी कनवासी अपनी ब्यूटी पार्लर चलाती है, जहां न सिर्फ स्थानीय लोग बल्कि विदेशी सैलानी भी मेकअप कराने पहुंचते हैं. औरा बुटीक एवं पार्लर का संचालन करने वाली गुड्डी जब डेढ़ साल की थी तबसे उन्हें पोलियो है.

गुड्डी का कहना है कि शुरुआती समय में वो काफी परेशान रही, लेकिन बाद में उसने इस पर ध्यान देना बंद कर दिया और जिंदगी में आगे बढ़ने का निर्णय लिया. इसके लिए गुड्डी ने अपनी पढ़ाई के साथ-साथ ब्यूटीशियन का कोर्स किया. इसके बाद औरा बुटीक एवं ब्यूटी पार्लर खोला, जो इस इलाके का सबसे बेहतर पार्लर माना जाता है. वहीं गुड्डी के पार्लर में यहां कई लड़कियों को रोजगार भी मिल रहा है. गुड्डी ने खुद को सिर्फ औरा बुटीक तक ही सीमित नहीं रखा है बल्कि वो यहां लड़कियों को ब्यूटीशियन का कोर्स भी कराती है.

बहरहाल, जहां कुछ लोग अपनी मजबूरियों का रोना रोकर मेहनत करने से बचते हैं और सरकारी योजनाओं तक ही खुद को समेटकर रख देते हैं. वहां गुड्डी कनवासी उन जैसे लोगों के लिए एक मिसाल है, जो अपनी विकलांगता को अपनी लाचारी बना लेते हैं.

ये भी पढ़ें:- वो देश जहां की महिलाएं सबसे ज्यादा खुश हैं

ये भी पढ़ें:- Women's Day: मिलिए बिलासपुर की इस 'पैडगर्ल' से, ज‍िसने बदल दी महिलाओं की जिंदगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चमोली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 8, 2019, 11:35 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...