होम /न्यूज /उत्तराखंड /Chamoli News: ज्योतेश्वर महादेव मंदिर में स्वयंभू शिवलिंग करता है हर मनोकामना पूरी! जानिए इतिहास

Chamoli News: ज्योतेश्वर महादेव मंदिर में स्वयंभू शिवलिंग करता है हर मनोकामना पूरी! जानिए इतिहास

X
ज्योतेश्वर

ज्योतेश्वर महादेव मंदिर जोशीमठ में है.

Jyoteshwar Mahadev Mandir Joshimath: चमोली जिले के जोशीमठ नगर में पौराणिक ज्योतेश्वर महादेव मंदिर स्थित है. मंदिर में स ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट: सोनिया मिश्रा

    चमोली/जोशीमठ. उत्तराखंड के चमोली जिले के जोशीमठ नगर में पौराणिक ज्योतेश्वर महादेव मंदिर स्थित है. मंदिर में स्वयंभू शिवलिंग है, जो हिंदुओं की आस्था का केंद्र बिंदु है. इतिहासकारों के अनुसार, इस मंदिर की स्थापना आठवीं सदी की है, जो भारत के चार मठों में से पहले मठ ज्योतिर्मठ में मौजूद है. ज्योतेश्वर मंदिर परिसर में ही करीब 2500 वर्ष पुराना कल्पवृक्ष मौजूद है. इसी कल्पवृक्ष के नीचे आदि गुरु शंकराचार्य को दिव्य ज्ञान की प्राप्ति हुई थी, इसलिए भी मंदिर का महत्व और अधिक बढ़ जाता है.

    ज्योतिर्मठ क्षेत्र समुद्र तल से 6,107 ऊंचाई पर है. कर्णप्रयाग शहर से इसकी दूरी 75 किलोमीटर है. बद्रीनाथ धाम से 32 किलोमीटर पहले औली डांडा की ढलान पर अलकनंदा नदी के बाईं ओर जोशीमठ स्थित है. माना जाता है कि यहां आदि गुरु शंकराचार्य ने (815 ई के लगभग) एक पेड़ के नीचे समाधिस्थ होकर ज्ञान की दिव्य ज्योति प्राप्त की थी. तभी से इस क्षेत्र का नाम ज्योतिर्मठ हो गया और यहां पर स्थित शिवालय को ज्योतेश्वर महादेव कहा जाने लगा. जोशीमठ का वर्तमान नाम जोशीमठ, एक विसंगत नाम है.

    जोशीमठ के स्थानीय निवासी भुवन उनियाल बताते हैं कि ज्योतेश्वरमहादेव मंदिर में स्वयंभू शिवलिंग स्थित है. हर साल हजारों श्रद्धालु महाशिवरात्रि और सावन के महीने में मंदिर में अपनी मनोकामना लेकर दूर दूर से पहुंचते हैं. वहीं, बद्रीनाथ आने वाले श्रद्धालु भी मंदिर के दर्शन करने से नहीं चूकते. वहीं, स्थानीय निवासी सूरज बताते हैं कि ज्योतिर्मठ शंकराचार्य द्वारा स्थापित पहला मठ है. उसके 16 साल बाद शंकराचार्य अलग अलग स्थानों में गए और उन्होंने अनेक हिंदू धर्म के विस्तार के लिए काम किया. ज्योतेश्वर महादेव के निकट ही पूर्णागिरी देवी मंदिर स्थापित है, जो क्षेत्र की अधिष्ठात्री देवी हैं. साथ ही वह बताते हैं कि जो भी श्रद्धालु सच्चे मन से यहां अपनी इच्छा लेकर आता है, उनकी मनोकामना जरूर पूरी होती है.

    (NOTE: इस खबर में दी गई सभी जानकारियां और तथ्य मान्यताओं के आधार पर हैं. NEWS18 LOCAL किसी भी तथ्य की पुष्टि नहीं करता है.)

    Jyoteshwar Mahadev Mandir

    Tags: Chamoli News, Joshimath news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें