लाइव टीवी

चमोली के निचले इलाक़ों में खिली धूप... ऊंचाई में लगे रहे कोहरा और बादल

Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: January 9, 2020, 4:47 PM IST
चमोली के निचले इलाक़ों में खिली धूप... ऊंचाई में लगे रहे कोहरा और बादल
आज मौसम कुछ देर के खुला तो बेहद ख़ूबसूरत नज़ारे दिखे. चारों ओर पहाड़ों ने बर्फ़ की सफ़ेद चादर ओढ़ ली थी.

बर्फ़बारी के चलते ज़िले में 163 गांवों के साथ ही 23 सड़कें भी प्रभावित हुई हैं जिनमें सबसे अधिक गांव जोशीमठ तहसील में प्रभावित हुए हैं.

  • Share this:
चमोली. सीमांत ज़िले चमोली में जिस तरह से लगातार मौसम का मिज़ाज दिख रहा है उससे लगता नहीं कि लोगों को जल्दी राहत मिलने वाली है. हालांकि मौसम विभाग ने गढ़वाल में आज बारिश और बर्फ़बारी रुकने का पूर्वानुमान दिया था और ऐसा हुआ भी लेकिन मुश्किलें ख़त्म नहीं हुई. तीन दिन बाद बारिश और बर्फ़वारी रुकी तो निचले इलाकों में हल्की धूप खिली पर ऊंचाई वाले इलाकों में बादल और कोहरे के चलते लोगों को परेशानी झेलनी ही पड़ी.

बर्फ़बारी का असर रहेगा 

मौसम खुलते ही हर तरह पहाड़ बर्फ से ढके नजर आए. ऊपरी इलाकों में रहने वाले लोगों को आज भी बर्फ़ के बीच ही समय गुज़ारना पड़ा. पिछले तीन दिनों में जिस तरह से पहाड़ों में बर्फ़वारी हुई है उससे इतनी बर्फ़ गिर गई है कि इसका असर आगे भी कई दिनों तक जारी रहेगा.

निचले इलाकों में आज मौसम कुछ देर के खुला तो बेहद ख़ूबसूरत नज़ारे दिखे. चारों ओर पहाड़ों ने बर्फ़  की सफ़ेद चादर ओढ़ ली थी.

23 सड़कें बंद 

बर्फ़बारी के चलते ज़िले में 163 गांवों के साथ ही 23 सड़कें भी प्रभावित हुई हैं जिनमें सबसे अधिक गांव जोशीमठ तहसील में प्रभावित हुए हैं. उर्गम घाटी हो या फिर तपोवन सुराईटोटा सब जगह बहुत ज़्य़ादा बर्फ़ गिरने से ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में व्यवस्थाओं को दुरस्त करना प्रशासन के लिए चुनौती बना हुआ है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चमोली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 9, 2020, 4:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर