लाइव टीवी

इस बार अलग होगा गैरसैंण में सत्र... घोषणा पत्र के वादे की याद दिलाने लगे हैं बीजेपी विधायक ही
Chamoli News in Hindi

Prabhat Purohit | News18 Uttarakhand
Updated: February 27, 2020, 6:50 PM IST
इस बार अलग होगा गैरसैंण में सत्र... घोषणा पत्र के वादे की याद दिलाने लगे हैं बीजेपी विधायक ही
3 तारीख से होने वाले गैरसैंण सत्र में BJP विधायक ही सरकार के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं.

स्थानीय विधायक उम्मीद जता रहे हैं कि इस बार गैरसैंण में सरकार राजधानी के पक्ष में ठोस निर्णय ले सकती है.

  • Share this:
चमोली. राजधानी गैरसैंण का मुद्दा भाजपा और कांग्रेस दोनों के लिए ही चुनावी मुद्दा रहा है और विपक्ष में रहते हुए सरकार को घेरने का ज़रिया बना है लेकिन बीजेपी के लिए इस बार मुश्किल अलग और बड़ी है. इस बार खुद पार्टी विधायक और कार्यकर्ता भी राजधानी के मुद्दे पर अब अपनी ही सरकार को घोषणापत्र की याद दिलाने लगे हैं. 3 तारीख से होने वाले गैरसैंण सत्र में यह नया डेवलपमेंट सरकार के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है.

बीजेपी संकल्प पत्र 

पहाड़ी राज्य की अवधारणा के साथ बने उत्तराखंड राज्य निर्माण के 20 साल पूरे हो गए हैं लेकिन आज तक भी इसकी स्थाई राजधानी घोषित नहीं हो पाई है. पिछली सरकार में इस मुद्दे पर विपक्षी भाजपा ने जहां सड़क से सदन तक सरकार को इस मुद्दे पर खूब घेरा वहीं चुनावों के दौरान इसे बाकायदा अपने घोषणा संकल्प पत्र में शामिल किया.

सरकार बनने के बाद अब कांग्रेस के पास इस मुद्दे पर सरकार को घेरने का मौका है लेकिन दिक्कत यह है कि भाजपा कार्यकर्ता भी सरकार को संकल्प पत्र की याद दिलाने लगे हैं.



पहले भी बंधी थीं उम्मीदें 

स्थानीय विधायक भी सरकार के राजधानी के मुद्दे पर संकल्प पत्र को पूरा करने की जहां बात कह रहे हैं और उम्मीद जता रहे हैं कि इस बार गैरसैंण में सरकार राजधानी के पक्ष में ठोस निर्णय ले सकती है.

लेकिन ऐसा पहली बार नहीं हुआ है. भराड़ीसैंण में बने विधानसभा भवन में पहले भी दो बार विधानसभा सत्र हो चुके हैं और लोगों को उन्मीद थी कि पहाड़ के बीच पहुंची सरकार शायद पहाड़ के विकास को लेकर पहाड़ी राज्य की राजधानी की घोषणा कर दे लेकिन हुआ कुछ नहीं.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चमोली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2020, 6:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर