अपना शहर चुनें

States

अब पहाड़ो में भी बढ़ने बढ़ने लगा करवा चौथ का क्रेज

Photo Courtesy- ETV
Photo Courtesy- ETV

टीवी सीरियल की देखादेखी अब पहाड़ों के लोग भी खूब निभा रहे हैं. जो व्रत और त्योहार कभी लोगों ने सुने तक नहीं थे आज उनको आज पहाड़ों में भी बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जा रहा हैं.

  • Share this:
टीवी सीरियल की देखादेखी अब पहाड़ों के लोग भी खूब निभा रहे हैं. जो व्रत और त्योहार कभी लोगों ने सुने तक नहीं थे आज उनको आज पहाड़ों में भी बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जा रहा हैं.

ऐसा ही एक व्रत है करवा चौथ का जो पहाड़ी संस्कृति का हिस्सा नही हैं. उत्तराखंड की प्रसिद्ध सांस्कृति नगरी पौड़ी में महिलाएं करवा चौथ का समान लेने के लिये दुकानों में लंबी लंबी लाईनों में खड़ी हैं.

वैसे तो पहले पहाड़ों में करवा चौथ का कोई महत्व नहीं था लेकिन आज की पीढ़ि इस व्रत को तो रखती तो है ही साथ ही सभी नियमों के साथ करवाचौथ को मनाती भी हैं. आज पाहड़ के गांव क्षेत्रों में भी इस व्रत के प्रति लोगों का प्रेम और भी ज्यादा बढ़ता जा रहा हैं.



महिलाएं सुबह से ही आज के दिन खूब खरीददारी कर सोना चादी के आभूषण भी खरीदती हैं. पाहड़ की सुहागन महिलाओं का कहना हैं कि करीब 10 सालों से पहाड़ों में भी इस व्रत को रखा जाने लगा हैं. उन्होने कहा कि पति की लंबी आयु के लिये अब गांव की महिलाएं भी इस व्रत को रखती हैं.
कहा जाता हैं कि गुजरात और राजस्तान में करवा चौथ का अपना अलग ही महत्व होता है पर टीवी सीरियल देखते देखते अब पहाड़ के लोग भी अब इस पर्व को मनाने लगे हैं.

शास्त्रों की माने पहाड़ों में सकर चौथ का व्रत महिलाओं के लिये खास माना जाता है और वहीं व्रत करवा चौथ जैसा होता है. वहीं पुराने लोग आज भी इस परमपरा को नहीं मनाते हैं पर घरो में बेटी, बहु का पूरा साथ देते हैं.

पहाड़ के पुराने लोगों की माने तो टीवी सीरियल से ही आज प्रदेश में सभी त्योहार मनाए जाने लगे हैं. टीवी सीरियलों को देख देख कर अब हर राज्यों में देश के सभी त्योहारों को मनाया जा रहा है.

चाहे वो करवाचौथ हो या फिर गणेश महोत्सव या ये कह सकते है कि टीवी सीरियलों के द्वारा आज हम सभी सांस्कृति को करीबी से देख और उसे निभा रहे हैं. फिलहाल अब पौड़ी में करवा चौथ को लेकर महिलाएं काफी खुश हैं. अब इंतजार हैं तो बस चांद के दीदार का जिसके बाद उनका रखा व्रत सम्पन्न हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज