लाइव टीवी

शादी का कार्ड लेकर बैंक पहुंची मां ,पैसों के लिए कर रही है सबसे मिन्नत


Updated: November 13, 2016, 8:47 PM IST

उत्तराखंड के चम्पावत में 500 ,1000 के पुराने नोट बंद करने के बाद से ही लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं खास कर के उनकी जिनके घर में इस कुछ दिनों बाद ही बेटे-बेटी की शादी होनी है .शुरू में मिल रहे समर्थन के बाद लोग अब खुलकर नाराजगी जाहिर करने लगे हैं.

  • Last Updated: November 13, 2016, 8:47 PM IST
  • Share this:
उत्तराखंड के चम्पावत में 500 ,1000 के पुराने नोट बंद करने के बाद से ही लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं खास कर के उनकी जिनके घर में इस कुछ दिनों बाद ही बेटे-बेटी की शादी होनी है .शुरू में मिल रहे समर्थन के बाद लोग अब खुलकर नाराजगी जाहिर करने लगे हैं.

500,1000 के नोट बंद करने के प्रधानमंत्री मोदी के एक फैसले ने उन मां पिता को परेशान कर दिया है जिनके बेटी और बेटे की शहनाई में बजने वाली शगुन की धुनों को हल्का कर दिया है. कुछ दिनों बाद होने वाली शादी की तैयारियों को छोड़कर मां बाप बैंक में लाइन लगाने को मजबूर हैं. इस उम्मीद से बैंक शादी का कार्ड भी ला रहे है.

भागीरथी देवी की बेटी शादी जहां 26 नवम्बर को है वही देवकी देवी की बेटी की शादी 25 नवम्बर को है .दोनों इस उम्मीद से बैंक में शादी का कार्ड इस लिए आए हैं कि क्या पता बैंक कर्मियों का दिल पसीज जाए और ज्यादा पैसे मिल जाए, घर में मंगल काम पूरा हो जाए .

बैंक में लगी इस लाइन में खड़े पिता को चिन्ता है की जल्द लाइन ख़त्म हो . नारायण सिंह दिगर सिंह इस लिए लाइन में सुबह से भूखे प्यासे लगे हैं ताकि ज़िन्दगी भर की मेहनत की गाढ़ी कमाई बैंक से निकाल सकें क्योंकि घर में रखे रूपए व्यापारी नहीं ले रहा जिसे की शादी का सामान बाजार से ख़रीदा जा सके .

25 नवम्बर को बेटे की शहनाई की चिंता खाए जा रही है .लेकिन घण्टों लाइन में लगने के बाद 4 हजार और 10 हजार की रकम मिल भी गई तो क्या होगा. इसलिए एक पिता लाइन में खड़ा होकर अपनी औलाद के लिए फर्ज और संघर्ष दोनों कर रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चम्‍पावत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2016, 6:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...