महिला सशक्तिकरण की कहानी बयां कर रहा है ये एनएच टोल

टोल मैनेजर हेमंत पांडे कहते हैं. उनकी कोशिश है कि महिलाएं इस पेशे से जुड़े. आगे बढ़े और हम उन्हें सुरक्षा के साथ रोजगार दे सकें.


Updated: July 24, 2018, 3:46 PM IST
महिला सशक्तिकरण की कहानी बयां कर रहा है ये एनएच टोल
महिलाएं टोल नाके के काउंटर में बैठकर उसका संचालन भी कर रही हैं.

Updated: July 24, 2018, 3:46 PM IST
खटीमा एनएच 9 में बना ये टोल नाका शायद देश का पहला ऐसा टोल होगा. जहां महिलाएं पुरुष वर्चस्व वाले इस पेशे को न सिर्फ अपना रही हैं. बल्की दिन रात बेखौफ आत्मविश्वास के साथ टोल नाके के काउंटर में बैठकर उसका संचालन भी कर रही हैं. टोल मैनेजर हेमंत पांडे कहते हैं. उनकी कोशिश है कि महिलाएं इस पेशे से जुड़े. आगे बढ़े और हम उन्हें सुरक्षा के साथ रोजगार दे सकें.

टोल काउंटर पर दिन और रात में काम कर लड़कियां बता रही हैं. शुरुआत में टोल में जॉब को लेकर कई सवाल तो उठे, लेकिन घर का साथ मिला तो हौसला बढ़ा है. इसके साथ ही कहती हैं लड़कियों को आगे बढ़ने के लिए कभी न कभी पहला कदम आगे बढ़ाना ही होता है.

बदलते आधुनिक भारत की यह  तस्वीर बता रहीं हैं की रुढ़ीवाद परम्परा को तोड़ कर महिलाएं आगे बढ़ रही हैं. पुरुष वर्चस्व वाले क्षेत्र में  अपनी मौजूदगी भी जता रही है. इसके साथ ही दूसरी महिलाओं को प्रेरित करने का काम कर रही हैं. तो वही सरकार द्वारा चलाये जा रहे महिला सशक्तिकरणअभियान को भी सार्थक कर रही है.

ये भी पढ़ें -

VIDEO: हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा- क्यों न बदरीनाथ को राष्ट्रीय धरोहर घोषित किया जाए

VIDEO: पटवारी ने बांटे ज़रूरतमंदों को चेक तो भड़के BJP MLA यतीश्वरानंद, दी धमकी

(रिपोर्ट - कमलेश भट्ट)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर