अपना शहर चुनें

States

दागदार इतिहास वाले लोगों को विधानसभा चुनाव में कांग्रेस न दे टिकट : प्रदीप टम्टा

ETV/Pradesh18
ETV/Pradesh18

राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने श्रीनगर गढ़वाल स्थित जीएमवीएन सभागार में एक पत्रकारवार्ता के दौरान साफ कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस से दागदार लोगों को टिकट न दियें जाएं

  • Share this:
राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने श्रीनगर गढ़वाल स्थित जीएमवीएन सभागार में एक पत्रकारवार्ता के दौरान साफ कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस से दागदार लोगों को टिकट न दियें जाएं

सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा कि वे इस सम्बन्ध में मुख्यमंत्री हरीश रावत से भी बात करेंगे. उन्होंने स्पष्ट कहा कि जिनका राजनीतिक इतिहास काला है और जो खनन सहित तमाम तरह के कारोबारों में लिप्त हैं उन चेहरों को चुनाव में टिकट देने की कोई जरूरत नहीं है.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इसी तरह के लोगों से नुकसान हुआ है, ये सब इसी तरह के लोग थे. उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों का राजनीति से कोई लेना देना नहीं था और समाज, राज्य और देश की सेवा इनका लक्ष्य नहीं था बल्कि राजनीति में आकर अपने गलत लोगों को प्रतिष्ठित करना उनका लक्ष्य था.



सांसद टम्टा ने कहा कि ये केवल कांग्रेस का या विपक्ष का नहीं बल्कि राज्य व पूरे देश का सवाल है. उन्होंने कहा कि मै समझता हूं कि कांग्रेस पार्टी में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है जिनका आपराधिक इतिहास हो.
टम्टा ने कहा कि वे सीएम से भी कहेंगे कि किसी भी तरह से कांग्रेस जब अपने चुनाव में टिकट चाहने वालों की समीक्षा करे तो कम से कम इस तरह के लोगों कि जिनके इतिहास में धब्बा है उन्हें टिकट के दायरे से बाहर रखे.

उड़ी आतंकवादी हमले के मामले पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार सुरक्षा और विदेश नीति के मामले पर पूरी तरह असफल रही है. उन्होंने कहा कि सबको लग रहा है और संसद में भी ये बात आयी है कि पाकिस्तान हमारी घरेलू परिस्थितियों का नाजायज फायदा उठाने की कोशिश कर सकता है.

उन्होंने कहा कि उड़ी सैक्टर के बारे में तो कहा ही गया था क्योंकि वो सबसे संवेदनशील क्षेत्र रहा है जहां से आतंकवादी घुसपैठ की घटनाएं होती हैं, ऐसे में वर्ष 1990 के बाद किसी सैन्य प्रतिष्ठान पर इतना बड़ा हमला होना बहुत चिंता का कारण है. उन्होंने कहा कि देश मोदी सरकार से जवाब मांग रहा है कि गुनहगारों को कैसे सजा दी जाएगी और देश भी उनसे सुरक्षा के मामले पर जवाब चाहता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज