लाइव टीवी

ट्रैक्टर ट्रॉली से खनन सामग्री उठाने का विरोध, धरने पर बैठे शक्तिमान चालक

Kamlesh Bhatt | ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 19, 2018, 7:35 PM IST
ट्रैक्टर ट्रॉली से खनन सामग्री उठाने का विरोध, धरने पर बैठे शक्तिमान चालक

  • Share this:
टनकपुर शारदा नदी में ट्रैक्टर-ट्रॉली को भी खनन सामग्री की निकासी करने के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की इजाज़त मिलने के बाद गतिरोध की स्थिति पैदा हो गई है. शक्तिमान ट्रक मालिक ट्रैक्टर-ट्रॉली से खनन निकासी के विरोध में उतर आए हैं. दोनों वाहनों के मालिकों की इस खींचतान में खनन से जुड़े 500 से ज्यादा मजदूरों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है.

पिछले कई दशकों से टनकपुर शारदा नदी में एक शक्तिमान ट्रक से खनन किया जाता था, लेकिन हाल ही में ज़िलाधिकारी ने रजिस्ट्रेशन के बाद ट्रैक्टर ट्रॉली को खनन की इजाज़त देने के निर्देश दे दिए.

अहम  और वर्चस्व की इस लड़ाई में खनन से जुड़े 275 से ज्यादा ट्रकों के पहिए जाम हो गए. इससे खनन से जुड़े 500 से ज्यादा मजदूरों के सामने रोज़ी-रोटी का संकट खड़ा हो गया.

मज़दूरों का कहना है कि उनके सामने रोज़ी-रोटी का संकट हो गया है, घर का चूल्हा जलना बंद हो गया है. वह कहते हैं कि हम तो खिचड़ी खाकर गुज़ारा कर रहे हैं लेकिन परिवार को कैसे पालें.

उधर सरकार को  खनन निकासी के विरोध के चलते रोज़ 15 लाख से ज्यादा राजस्व का नुक़सान भी उठाना पड़ रहा है.

अब खनन से जुड़ी शक्तिमान यूनियन प्रशासन विरोध में धरना दे रही है वहीं उनके समर्थक ट्रैक्टर-ट्रॉली के रजिस्ट्रेशन को अपने अधिकार हनन बता रहे हैं. तनाव इतना बढ़ गया कि  प्रशासन को टनकपुर  क्षेत्र में धारा 144 लागू करनी पड़ी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चम्‍पावत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2018, 7:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...