लाइव टीवी

चंपावत में महिलाएं नमक के साथ रोटी खाने को तैयार

Kamlesh Bhatt | ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 17, 2016, 9:59 PM IST
चंपावत में महिलाएं नमक के साथ रोटी खाने को तैयार
Photo Courtesy- ETV

ईटीवी/प्रदेश 18 कैश क्राइसिस से जुड़ी दिक्कतों का हाल जाने जब चंपावत के खूनाबोरा गावं पहुंचा तो उसे दो तस्वीरें दिखी.

  • Share this:
ईटीवी/प्रदेश 18 कैश क्राइसिस से जुड़ी दिक्कतों का हाल जाने जब चंपावत के खूनाबोरा गावं पहुंचा तो उसे दो तस्वीरें दिखी. एक तरफ मजदूर, व्यापारी छोटे नोट नहीं मिलने से खुद को परेशान बता रहा है. वहीं, दूसरी तरफ गांव की महिलाएं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले का स्वागत करती दिखी.

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद चंपावत से 8 किमी दूर खुनबोहरा गांव पहुंचा ईटीवी/प्रदेश 18 ने गांव में बड़े नोट बंद होने के बाद कैश क्राइसिस को लेकर लोगों से उनके मन की बात पूछी गई. गावं में रहने वाले और मजदूर करीने वाले हरी राम छोटे नोट न होने पर राशन वाले पर 500 का नोट 350 रुपए में चलाने की बात कर रहे हैं. वहीं, चाय के साथ परचून की दुकान चला रहे बुजर्ग छुट्टे ना मिलने के चलते अपने चाय का कारोबार ही बंद कर दिया है.

दूसरी तरफ गांव की महिलाएं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले का स्वागत करने के साथ पूछने पर बताती है कि ज्यादा रुपए वालों को दिक्कत होगी. वो नमक और चुड़कानी के साथ रोटी खाने को तैयार हैं.

एक हफ्ते बाद भी लोगों को बड़े नोट के बदले छोटे नोट ना मिलने के चलते परिवार और व्यापार चलाने में दिक्कते आ रही हैं. वहीं, घर संभालने वाली महिलाएं के ख्यालातों में भी बड़ी तब्दीली आई है, जो बता रहा कि वाकई भारत बदल रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चम्‍पावत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2016, 9:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...