Home /News /uttarakhand /

cm pushkar singh dhami to file nomination for champawat assembly seat bypoll bjp to show strength

चंपावत उपचुनाव: सीएम पुष्कर धामी ने भरा नामांकन, बीजेपी ने किया शक्ति प्रदर्शन

पुष्कर सिंह धामी को सीएम पद बने रहने के लिए यह उपचुनाव जीतना बेहद जरूरी है.

पुष्कर सिंह धामी को सीएम पद बने रहने के लिए यह उपचुनाव जीतना बेहद जरूरी है.

उत्तराखंड की चंपावत विधानसभा सीट पर 31 मई को उपचुनाव होने वाला है. इस उपचुनाव में सीएम पुष्कर सिंह धामी के खिलाफ कांग्रेस ने निर्मला गहतोड़ी को, वहीं समाजवादी पार्टी (सपा) ने मनोज कुमार भट्ट उर्फ ललित मोहन भट्ट को प्रत्याशी बनाया है. धामी को सीएम पद बने रहने के लिए यह उपचुनाव जीतना बेहद जरूरी है.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज विधानसभा उपचुनाव के लिए चंपावत सीट से अपना पर्चा दाखिल किया. पुष्कर धामी ने इससे पहले अपनी पत्नी गीता धामी के साथ खटीमा स्थित चकरपुर बनखंडी महादेव शिव मंदिर में सुबह पूजा अर्चना और जलाभिषेक किया. इसके बाद उन्होंने चंपावत पहुंचकर उपचुनाव के लिए अपना पर्चा दाखिल किया.

मुख्यमंत्री के इस नामांकन कार्यक्रम की तैयारियों को बीजेपी के शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है. वह बनबसा से रोड-शो के जरिए चम्पावत पहुंचे, जहां विभिन्न जगहों पर स्वागत कार्यक्रम रखा गया. इस दौरान उनके साथ विधायक बंशीधर भगत, हल्द्वानी के मेयर जोगिंदर रौतेला, पूर्व विधायक राजेश शुक्ला, पूर्व विधायक डॉ. प्रेम सिंह राणा सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे.

इस विधानसभा सीट पर 31 मई को उपचुनाव होने वाला है. इस उपचुनाव में धामी के खिलाफ कांग्रेस ने निर्मला गहतोड़ी को अपना प्रत्याशी घोषित किया है. वहीं समाजवादी पार्टी (सपा) ने मनोज कुमार भट्ट उर्फ ललित मोहन भट्ट को प्रत्याशी बनाया है. भट्ट पिथौरागढ़ से समाजवादी पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं और वे टैक्सी यूनियन के नेता भी हैं.

वहीं उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस की तेज-तर्रार महिला नेताओं में शुमार की जाने वाली निर्मला का ताल्लुक ब्राह्मण समुदाय से है. वह करीब तीन दशक पहले शराब-विरोधी आंदोलन से सुर्खियों में आई थीं. वह कांग्रेस की चंपावत जिला अध्यक्ष, प्रदेश कांग्रेस कमेटी और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्य रही हैं. पूर्व की प्रदेश कांग्रेस सरकार में वह दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री भी थीं.

बता दें कि उत्तराखंड के हालिया विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने राज्य की 70 में से 57 सीटों पर जीत हासिल कर दोबारा सरकार बनाने का इतिहास रचा था, लेकिन पार्टी का नेतृत्व करने वाले धामी खुद खटीमा सीट से चुनाव हार गए. ‘उत्तराखंड फिर मांगे-मोदी धामी की सरकार’ के नारे पर चुनाव लड़ने वाली भाजपा ने धामी के नेतृत्व पर ही फिर भरोसा किया और उन्होंने 23 मार्च को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. हालांकि, धामी को सीएम पद बने रहने के लिए शपथ ग्रहण करने के छह माह के भीतर उपचुनाव लड़कर विधानसभा का सदस्य बनना है. ऐसे में सीएम को चुनाव जिताने के लिए चम्पावत से देहरादून तक लगातार बैठकों का दौर जारी है और नामांकन कार्यक्रम में बीजेपी के इस शक्ति प्रदर्शन को इसी कोशिश के तहत देखा जा रहा है.

Tags: Pushkar Singh Dhami, Uttarakhand BJP

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर