लाइव टीवी

सात ग्राम पंचायतों में टाइ हो गए प्रधान पद पर के लिए वोट, ऐसे हुआ फ़ैसला

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: October 21, 2019, 7:40 PM IST
सात ग्राम पंचायतों में टाइ हो गए प्रधान पद पर के लिए वोट, ऐसे हुआ फ़ैसला
दुगड्डा की बादकोट पंचायत में दोनों प्रधान पद प्रत्याशियों के बीच टाइ जारी हो गया था. एसडीएम के पर्ची निकालते समय सांस रोककर परिणाम सुनने का इंतज़ार करतीं प्रत्याशी.

नियमानुसार जब भी इस तरह की स्थिति आती है तो लॉटरी के ज़रिए ही फैसला लिए जाने का नियम है.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में सोमवार सुबह आठ बजे शुरु हुई पंचायत चुनाव (Panchayat) की मतगणना (Counting) ख़बर लिखे जाने तक जारी है. मतगणना के दौरान कई इस दौरान कई मज़ेदार पल भी आए. खासकर तब जब ग्राम प्रधान (Gram Pradhan) पद पर प्रत्याशियों के बराबर वोट आ गए  और फ़ैसला लॉटरी (Lottery) से करना पड़ा. पिथौरागढ़ (Pithoragarh) में ऐसा दो पंचायतों में हुआ तो पौड़ी (Pauri) में तीन पंचायतों में. इसके अलावा टिहरी (Tehri) में भी एक जगह ग्राम प्रधान के पद पर टाइ (Tie) हो गया और लॉटरी के ज़रिए फ़ैसला करना पड़ा.

एक नज़र किस्मत से हुए फ़ैसलों पर

  • पिथौरागढ़ ज़िले में भनड़ा ग्राम पंचायत की काउंटिग में ग्राम प्रधान पद पर हरीश सिंह कन्याल और बलवंत सिंह को 145-145 वोट मिले.


  • पिथौरागढ़ के ही गंगोलीहाट विकासखंड की ग्राम सभा पाली में पुष्पा देवी और नीरू देवी को 120-120 वोट मिले.

  • टिहरी में भिलंगना विकासखंड के मेड ग्राम पंचायत में ग्राम प्रधान पद पर सुशमा देवी और उर्मिला देवी को 179-179 वोट मिले

  • पौड़ी में थलीसैंण कांडई ग्राम पंचायत में प्रधान पद के लिए शांति देवी और हेमलता देवी को 146-146 वोट मिले.

  • Loading...

  • पौड़ी के बीरोंखाल विकासखंड की ढिस्वाणी ग्राम सभा में ग्राम प्रधान पद सुमन देवी और संगीता देवी को 68-68 वोट मिले.

  • पौड़ी के ही दुगड्डा विकासखंड में बादकोट पंचायत में रीना देवी और पुष्पा देवी दोनों को 78-78 वोट मिले.


पुष्पा देवी की किस्मत खुली

कोटद्वार से न्यूज़ 18 संवाददाता अनुपम भारद्वाज ने बताया कि रीना देवी और पुष्पा देवी को बराबर वोट मिलने के बाद दोनों के भविष्य का फैसला लॉटरी से किया गया. आरओ मृत्युंजय सिंह के निर्देश पर दोनों महिला प्रत्याशियों के नाम की पर्ची एक डिब्बे में डाली गई और एसडीएम कोटद्वार ने एक पर्ची को बाहर निकाला.

आरओ दुगड्डा ने बताया कि नियमानुसार जब भी इस तरह की स्थिति आती है तो लॉटरी के ज़रिए ही फैसला लिए जाने का नियम है. ऐसे में लॉटरी के ज़रिए जिसका नाम आता है माना जाता है कि उसे एक और वोट मिल गया है. इस मामले में पुष्पा देवी के नाम की पर्ची निकली और उन्हें विजयी घोषित किया गया.

ये भी देखें: 

देश सेवा के बाद गांव सेवा में उतरे पूर्व सैनिक, मिलिए नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों से

उत्तराखंड पंचायत चुनावः बीजेपी ने सांसदों, विधायकों को सौंपी चुनाव जिताने की ज़िम्मेदारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 7:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...