Home /News /uttarakhand /

aam aadmi party dissolves units to reset organisation in uttarakhand deepak bali new state chief

उत्तराखंड में AAP ने तमाम यूनिटें भंग की, चंपावत Bypoll से पहले नयी शुरुआत, बाली नये प्रदेश अध्यक्ष

दीपक बाली को उत्तराखंड आम आदमी पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया.

दीपक बाली को उत्तराखंड आम आदमी पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया.

AAP in Uttarakhand : एक तरफ उत्तराखंड की छात्र राजनीति में आम आदमी पार्टी की स्टूडेंट विंग छात्र युवा संघर्ष समिति ने एंट्री करने और कॉलेज व यूनिवर्सिटी के चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है. दूसरी तरफ, आप ने नये सिरे से लॉन्चिंग के लिए पूरा संगठन ही भंग कर दिया.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में खाता भी नहीं खोल सकी आम आदमी पार्टी ने राज्य में अपने संगठन की तमाम इकाइयां भंग करते हुए नये सिरे से पार्टी को खड़ा करने की कवायद शुरू की है. आप ने उत्तराखंड के नये प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर काशीपुर से पार्टी के उम्मीदवार रहे दीपक बाली को ज़िम्मेदारी दी है. पार्टी के नये प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर बाली ने शुक्रवार को पदभार ग्रहण किया और पार्टी को राज्य में नये सिरे से खड़े करने के लक्ष्य के बारे में बातचीत की.

आम आदमी पार्टी विधानसभा चुनाव में ज़मानत ज़ब्त की स्थिति के बाद चंपावत उपचुनाव से पहले हरकत में आती दिखी है. हालांकि पार्टी ने अभी उपचुनाव में प्रत्याशी खड़ा करने के बारे में निर्णय नहीं लिया है. आप का कहना है कि आपसी चर्चा के बाद इस बारे में विचार किया जाएगा, हालांकि अरविंद केजरीवाल की पार्टी उत्तराखंड में अब ​नगर निगम और नगरपालिका चुनावों में पूरी ताकत झोंकने के मूड में नज़र आ रही है.

politics of Uttarakhand, Uttarakhand, aam aadmi party Uttarakhand, arvind kejriwal Uttarakhand, aap state president, आम आदमी पार्टी उत्तराखंड, आप प्रदेश अध्यक्ष, उत्तराखंड की राजनीति, aaj ki taza khabar, UK news, UK news live today, UK news india, UK news today hindi, UK news english, Uttarakhand news, Uttarakhand Latest news, उत्तराखंड ताजा समाचार

यूनिट भंग करने के संबंध में आम आदमी पार्टी और दिनेश मोहनिया के ट्वीट्स.

‘काम की राजनीति’ जारी रखेगी आप
इससे पहले आप के उत्तराखंड प्रभारी दिनेश मोहनिया के निर्देश पर राज्य में पार्टी की सभी इकाइयां, प्रदेश कार्यकारिणी प्रकोष्ठ आदि गुरुवार को भंग कर दिए गए. मोहनिया ने भी इस बारे में ट्विटर पर सूचना देते हुए लिखा कि पार्टी नये सिरे उत्तराखंड में संगठन तैयार करेगी और आम लोगों के अधिकारों की बात लोगों तक ले जाने को प्रमुखता से पार्टी का एजेंडा बनाया जाएगा. उन्होंने लिखा कि ‘काम की राजनीति’ जारी रखी जाएगी.

संगम विहार से लगातार विधायक रह चुके मो​हनिया ने हालांकि यह ज़रूर कहा कि पार्टी ने पूरी ताकत से उत्तराखंड में चुनाव लड़ा लेकिन अब पार्टी नयी सोच के साथ दोबारा शुरुआत करेगी. गौरतलब है कि आप ने उत्तराखंड के सभी 70 विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए थे लेकिन कुल 3.3 प्रतिशत वोट ही ​हासिल कर सकी. आप के मुख्यमंत्री चेहरे कर्नल अजय कोठियाल गंगोत्री सीट पर ज़मानत भी नहीं बचा सके थे.

Tags: Uttarakhand AAP, Uttarakhand politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर