लाइव टीवी

अब पंतनगर एयरपोर्ट में ही मिलेगा हवाई जहाज़ों को मिलेगा फ़्यूल, अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ को भी फ़ायदा

Pooran Singh Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: June 1, 2019, 5:01 PM IST
अब पंतनगर एयरपोर्ट में ही मिलेगा हवाई जहाज़ों को मिलेगा फ़्यूल, अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ को भी फ़ायदा
पंतनगर एयरपोर्ट में एटीएफ़ डिपो बनने से यहां चौबीसों घंटे विमानों और हैलिकॉप्टरों के लिए ईंधन उपलब्ध रहेगा.

पंतनगर एयरपोर्ट में एटीएफ़ डिपो बनने से यहां चौबीसों घंटे विमानों और हैलिकॉप्टरों के लिए ईंधन उपलब्ध रहेगा.

  • Share this:
सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण कुमाऊं मंडल के पंतनगर एयरपोर्ट से उड़ान भरने वाले विमान आज से पंतनगर हवाई अड्डे से ही एटीएफ यानी एयरक्राफ्ट टरबाइन फ्यूल भरवा सकेंगे. इंडियन ऑयल एविएशन सर्विसिस ने पंतनगर एयरपोर्ट में ईंधन भंडारण के लिए 70 करोड़ रुपये की लगात से एटीएफ़ डिपो का निर्माण पूरा कर दिया है और अब पंतनगर हवाई अड्डे में चौबीसों घंटे विमानों और हैलिकॉप्टरों के लिए ईंधन उपलब्ध रहेगा.

फ़्लाइंग क्लब को भी मिलेगा फ़ायदा

इसके अलावा पंतनगर एयरपोर्ट में बने एटीएफ़ डिपो से अब पिथौरागढ़ के नैनी-सैनी हावई अड्डे और अल्मोड़ा के हेलीपैड के लिए भी एयरक्राफ्ट टरबाइन फ्यूल की सप्लाई की जाएगी. बता दें कि अभी पंतनगर एयरपोर्ट से दिल्ली और पंतनगर से देहरादून के बीच ‘एयर इंडिया’ की हवाई सेवा संचालित हो रही है.

करीब आए गढ़वाल-कुमाऊं... शुक्रवार से दून-पंतनगर के बीच हवाई सेवा शुरू

कई बार यहां विमानों को ईंधन की समस्या से दो चार होना पड़ता था. लेकिन एयरपोर्ट परिसर में एयरक्राफ्ट टरबाइन फ्यूल डिपो की स्थापना के बाद अब पंतनगर एयरपोर्ट पर एयरक्राफ्ट, हैलिकॉप्टरों के  साथ-साथ पंतनगर एयरपोर्ट में संचालित हो रहे फ्लाइंग क्लब के बड़े-छोटे विमानों को भी पंतनगर में ही ईंधन की सुविधा मुहैया हो गई है.

हाथियों को रोकने के लिए पंतनगर एयरपोर्ट की बढ़ाई गई सुरक्षा

DGCA ने डेक्कन एविएशन को 'उड़ान योजना' से हटाया, एयर इंडिया को दी जिम्मेदारीFacebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 1, 2019, 4:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर