सीएम के बाद अब बंशीधर भगत ने बोला हरीश रावत पर हमला... रावत के पलटवार का इंतज़ार
Dehradun News in Hindi

सीएम के बाद अब बंशीधर भगत ने बोला हरीश रावत पर हमला... रावत के पलटवार का इंतज़ार
हरीश रावत और बंशीधर भगगत के बीच ज़ुबानी जंग चल रही है.

बंशीधर भगत ने कहा कि हरीश रावत जितने बुजुर्ग हैं उतने ही झूठ बोलने में माहिर हैं.

  • Share this:
देहरादून. रामायण के चरित्र कालनेमि का उपनाम देने के बाद अब भगत का एक ओर नया बयान आया है. बंशीधर भगत ने हरीश रावत को महाझूठा करार दिया है... बंशीधर भगत ने कहा कि हरीश रावत जितने बुजुर्ग हैं उतने ही झूठ बोलने में माहिर हैं. भगत ने आइडीपीएल और एचएमटी जैसी फैक्ट्रियों की बंदी के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराने के हरीश रावत के बयान का जवाब देते हुए कहा कि यह ठीक है कि कांग्रेस के ही कार्यकाल में ये स्थापित हुईं लेकिन इनकी दुर्गति का कारण भी कॉंग्रेस ही बनी. भगत ने कहा कि भाजपा ने तो इनका अस्तित्व बचाने की कोशिश की लेकिन वेंटिलेटर पर चल रहे व्यक्ति को कब तक जिंदा रखा जा सकता है.

भगत के 3 सवाल

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से तीन सवालों के जवाब मांगे हैं-



पहला जमरानी बांध का शिलान्यास करने के बाद 45 सालों तक उसकी सुध क्यों नहीं ली गई?
दूसरा उत्तराखंड राज्य के गठन में कॉंग्रेस का क्या योगदान था?

जब अटल विहार वाजपेयी सरकार ने उत्तराखंड को विशेष राज्य का दर्जा दिया, तो यूपीए सरकार ने वापस ले लिया. हरीश रावत ने इसका विरोध क्यों नहीं किया?

इसलिए शुरु हुआ बवाल

दरअसल, बयानों के इस पलटवार का सिलसिला हरिद्वार में हर की पौढ़ी में गंगा की धारा को स्क्रैप चैनल कहे जाने को लेकर हुआ. हरीश रावत सरकार में हुए इस नामकरण पर हरीश रावत ने माफी मांगी थी और सरकार से कहा था कि वह चाहे तो इसे बदल कर फिर से गंगा की धारा का नाम दे सकती है.

मुख्यमंत्री ने इसे हरीश रावत का प्रयाश्चित बताया तो भाजपा अध्यक्ष ने इसे हरीश रावत द्वारा बिल्डरों के हित में उठाया गया कदम बताया था.

रावण और कालनेमि

इसके बाद हरीश रावत ने बंशीधर भगत को पहली बार टारगेट कर कहा था कि भगत अक्सर रामलीलाओं में दशरथ का पाठ करते हैं लेकिन अक्सर संवाद रावण वाले बोल जाते हैं. हरीश रावत ने बातों ही बातों में चेतावनी तक दे दी थी कि वे (भगत) उनका ज्यादा मुंह न खुलवाएं वरना इतनी बातें निकलेंगी कि समेटना मुश्किल हो जाएगा.

इस पर भगत ने हरीश रावत की तुलना रामायण के ही पात्र कालनेमि से कर दी जिसने रावण के कहने पर हनुमान का रास्ता रोका था. भगत ने कहा कि हरीश रावत कालनेमि हैं और कॉंग्रेस रावण. अब सभी को इंतजार है अपने सटीक, चुटीले और बहुअर्थी बयानों के लिए मशहूर हरीश रावत की प्रतिक्रिया का.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज