लाइव टीवी

देश सेवा के बाद गांव सेवा में उतरे पूर्व सैनिक, मिलिए नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों से

Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: October 21, 2019, 2:43 PM IST
देश सेवा के बाद गांव सेवा में उतरे पूर्व सैनिक, मिलिए नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों से
सोबन सिंह कैंतूरा, भगवान सिंह महर और ध्यान सिंह तीनों ही सेना में रह चुके हैं और डोईवाला विकासखंड में अपने-अपने इलाक़े से ग्राम प्रधान का चुनाव जीते हैं.

पूर्व सैनिक (Ex Army Men) अब चुनाव मैदान में भी उतर रहे हैं और पंचायत (Panchayat) स्तर पर बड़ी संख्या में चुनाव लड़ रहे हैं.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में पंचायत चुनावों के परिणाम (Panchayat Election Results) लगतार आ रहे हैं. इस बार नए पंचायती राज एक्ट (Panchayati Raj Act) की वजह से बहुत से नए उम्मीदवार भी मैदान में हैं. ख़ास बात यह है कि इस बार बहुत से युवा भी चुनाव मैदान में उतरे थे और उन्होंने जीत भी हासिल की है. इसके साथ ही पंचायत चुनावों में पूर्व सैनिक (Ex Army Men) भी अच्छी खासी संख्या में चुनाव लड़े हैं और जीत रहे हैं. न्यूज़ 18 को डोईवाला विकासखंड (Doiwala Block) में ऐसे तीन पूर्व सैनिक मिले जो ग्राम प्रधान (Gram Pradhan) बने हैं.

पीएम ने कहा था सैन्य धाम 

उत्तराखंड को सैनिकों का प्रदेश भी कहा जाता है क्योंकि यहां से औसतन हर घर से एक व्यक्ति सेना में है. इसका महत्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी माना था और लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने इसका उल्लेख करते हुए कहा था कि देवभूमि में चार धामों के अलावा एक और सैन्य धाम भी है.

pradhan winner, ex army men, उत्तराखंड पंचायत चुनावों में इस बार बड़ी संख्या में पूर्व फौजी भी चुनाव जीत रहे हैं.
उत्तराखंड पंचायत चुनावों में इस बार बड़ी संख्या में पूर्व फौजी भी चुनाव जीत रहे हैं. 


पूर्व सैनिक अब चुनाव मैदान में भी उतर रहे हैं और पंचायत स्तर पर बड़ी संख्या में चुनाव लड़ रहे हैं. नए पंचायती राज संशोधन अधिनियम के अनुसार क्षेत्र और ज़िला पंचायत में दो से ज़्यादा जीवित बच्चों वाले लोग चुनाव नहीं लड़ सकते हैं. इस शर्त को पूरा करने वाले पूर्व सैनिकों को भी इसका फ़ायदा मिल रहा है.

गांव की सेवा से देश सेवा 

डोईवाला विकासखंड में न्यूज़ 18 को सोबन सिंह कैंतूरा, भगवान सिंह महर और ध्यान सिंह असवाल मिले. तीनों ही सेना में रह चुके हैं और अब अपने-अपने इलाक़े से ग्राम प्रधान का चुनाव जीते हैं.
Loading...

इनका कहना है कि सेना में रहकर देश की सेवा करने के बाद अब वह अपने गांववालों के लिए काम कर देश की सेवा करेंगे.

ये भी देखें:  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 2:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...