Home /News /uttarakhand /

अल्मोड़ा लोकसभा नतीजे: सबसे युवा ज़िला पंचायत अध्यक्ष रहे हैं अजय टम्टा, दिग्गजों को पछाड़ बने केंद्र में मंत्री

अल्मोड़ा लोकसभा नतीजे: सबसे युवा ज़िला पंचायत अध्यक्ष रहे हैं अजय टम्टा, दिग्गजों को पछाड़ बने केंद्र में मंत्री

मोदी सरकार में उत्तराखंड के एकमात्र मंत्री अजय टम्टा एक बार फिर अल्मोड़ा संसदीय सीट से बीजेपी के उम्मीदवार हैं.

मोदी सरकार में उत्तराखंड के एकमात्र मंत्री अजय टम्टा एक बार फिर अल्मोड़ा संसदीय सीट से बीजेपी के उम्मीदवार हैं.

अल्मोड़ा लोकसभा नतीजे, AlmoraElection Result, अजय टम्टा, Ajay Tamta

मोदी सरकार में उत्तराखंड के एकमात्र मंत्री अजय टम्टा एक बार फिर अल्मोड़ा संसदीय सीट से बीजेपी के उम्मीदवार हैं. छात्र राजनीति से सक्रिय राजनीति में आए अजय टम्टा को देश का सबसे युवा ज़िला पंचायत अध्यक्ष बनने का गौरव हासिल है. दो बार के विधायक रहे अजय टम्टा राज्य सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं और पहली बार सांसद बनने के साथ ही उन्हें केंद्र सरकार में टेक्सटाइल राज्य मंत्री बनने का सौभाग्य भी हासिल हुआ है.

अल्मोड़ाः उत्तराखंड की एकमात्र आरक्षित सीट पर केंद्र में राज्य के एकमात्र मंत्री की किस्मत दांव पर

जुलाई 1972 में अल्मोड़ा में जन्मे अजय टम्टा छह भाई-बहनों में तीसरे स्थान पर हैं. उनके पिता मनोहर लाल टम्टा पोस्टल एंड टेलिकॉम डिपार्टमेंट में अधिकारी थी. मां निर्मला टम्टा ने टीचर्स इंस्ट्रक्टर की नौकरी बच्चों के लिए छोड़ दी थी. अजय बताते हैं कि पोस्टल और टेलिकॉम विभाग में अधिकारी होने के नाते आस-पास के लोग किसी भी दिक्कत के समाधान के लिए पिताजी के पास ही आया करते थे और वह यथासंभव उसका समाधान करते थे. सार्वजनिक जीवन की पहली ट्रेनिंग उन्हें वहीं से मिली.

ajay tamta 2
अजय टम्टा (फ़ाइल फ़ोटो)


अजय टम्टा की पढ़ाई मुख्यतः अल्मोड़ा में ही हुई. छात्र जीवन में ही वह एबीवीपी से जुड़ गए थे और फिर पार्टी पॉलिटिक्स में भी सक्रिय हो गए. राजनीति में सक्रिय होने का असर उनकी पढ़ाई पर पड़ा और अजय ग्रेजुएशन पूरी नहीं कर पाए हालांकि राजनीतिक जीवन में तरक्की करते गए. 1996 में अल्मोड़ा (तब अल्मोड़ा-बागेश्वर एक ही ज़िला थे) से ज़िला पंचायत सदस्य निर्वाचित होने के बाद वह अगले ही साल 1997 में अल्मोड़ा (सामान्य) के ज़िला पंचायत अध्यक्ष बन गए. तब वह देश में सबसे कम उम्र के ज़िला पंचायत अध्यक्ष बने थे.

दिग्गजों को पछाड़ केंद्र में मंत्री बनने वाले अजय टम्टा को अल्मोड़ा में खुली चुनौती

2007 में अजय टम्टा सोमेश्वर विधानसभा सीट से बीजेपी के टिकट पर जीतकर पहली बार विधायक बने और खंडूड़ी सरकार में उन्हें राज्यमंत्री का प्रभार सौंपा गया. 2008 में ही उनकी तरक्की हो गई और वह राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री बन गए. 2010 में बीजेपी ने उन्हें पार्टी के अनुसूचित जाति, जनजाति मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया. 2011 में अजय टम्टा को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का सदस्य बनाया गया.

ajay tamta
अजय टम्टा (फ़ाइल फ़ोटो)


लेकिन अजय टम्टा के राजनीतिक जीवन में सब कुछ ठीक ही होता रहा हो ऐसा भी नहीं हुआ. 2009 में अल्मोड़ा (सुरक्षित) संसदीय सीट से वह कांग्रेस के प्रदीप टम्टा के ख़िलाफ़ चुनाव लड़े और हार गए. 2012 में वह फिर सोमेश्वर विधानसभा क्षेत्र से विधायक बने. इस बार वह अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए क्योंकि राजनीति में ज़्यादा बड़ी भूमिका निबाहने का वक्त हो गया था.

अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ सीट में इस बार फिर टम्टा VS टम्टा

2014 के आम चुनाव में अजय टम्टा ने एक बार फिर प्रदीप टम्टा को चुनौती दी और मोदी लहर में सवार वह दिल्ली पहुंच गए. लेकिन अजय टम्टा की उपलब्धि यह रही कि पार्टी के बाकी चारों सांसदों से जूनियर होते हुए भी नरेंद्र मोदी सरकार में उन्हें मंत्री पद दिया गया. 2016 में अजय टम्टा को केंद्रीय वस्त्र राज्यमंत्री की ज़िम्मेदारी सौंपी गई.

ajay tamta 4
अजय टम्टा (फ़ाइल फ़ोटो)


उत्तराखंड के राजनीतिक हलकों में कहा जाता है कि अजय टम्टा राम मंदिर आंदोलन के दौरान भी सक्रिय थे. लेकिन उन्होंने न्यूज़ 18 को बताया कि बेशक उन पर राममंदिर आंदोलन का असर पड़ा लेकिन वह नहीं उनके बड़े भाई अरविंद टम्टा राम मंदिर आंदोलन के दौरान सक्रिय थे. अल्मोड़ा में जिन तीन-चार लोगों का नाम राम मंदिर आंदोलन में सक्रिय भागीदारी के लिए लिया जाता था उसमें अरविंद टम्टा भी थे. अजय याद करते हैं कि जब राम मंदिर आंदोलन चरम पर था, तब एक बार तो पुलिस ने उनके घर की सब्ज़ियां तक उठा ली थीं. वह छोटे थे और उन्होंने अचरज से सोचा कि मंदिर बनने की वजह से घर में कितनी दिक्कतें हो रही हैं.

अजय टम्टा की पत्नी निर्मला टम्टा हैं और उनकी दो बेटियां हैं. एक पांच साल की और एक 3 साल की.

लोकसभा चुनाव 2019: अजय टम्टा के समर्थन में यह बोले सीएम

लोकसभा चुनाव : राज्य मंत्री रेखा आर्या ने सांसद अजय टम्टा के खिलाफ खोला मोर्चा

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Tags: Ajay Tamta, Lok Sabha Election 2019, Uttarakhand BJP, Uttarakhand Lok Sabha Elections 2019, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर