Home /News /uttarakhand /

Uttarakhand Chunav: अमित शाह ने लॉन्च की घसियारी कल्याण योजना, महिला वोटर्स के लिए कितनी अहम है स्कीम?

Uttarakhand Chunav: अमित शाह ने लॉन्च की घसियारी कल्याण योजना, महिला वोटर्स के लिए कितनी अहम है स्कीम?

Amit Shah News: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देहरादून में भाजपा सरकार की घसियारी योजना का किया ऐलान. (फोटो साभारः टि्वटर)

Amit Shah News: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने देहरादून में भाजपा सरकार की घसियारी योजना का किया ऐलान. (फोटो साभारः टि्वटर)

Uttarakhand Elections 2022: उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र भाजपा के चुनावी अभियान (BJP Campaign) का शंखनाद करने पहुंचे अमित शाह ने राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को लॉन्च किया. इस योजना के बाद शाह ने बन्नू स्कूल परिसर में विशाल जनसभा को संबोधित किया. इससे पहले जौली ग्रांट एयरपोर्ट पर करीब पौने 11 बजे पहुंचे शाह का स्वागत मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक (Madan Kaushik) समेत कई नेताओं ने किया. जानिए अमित शा​ह के कार्यक्रम (Amit Shah Event) और घसियारी योजना से जुड़े दिलचस्प फैक्ट्स.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह शनिवार को उत्तराखंड के दौरे पर पहुंचे हैं. राजधानी देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना लॉंच की. विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र महिला वोटरों को प्रभावित करने की दिशा में इस योजना को महत्वपूर्ण माना जा रहा है. उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में पशुपालकों के लिए चारा एक बड़ी समस्या रही है. इस योजना के तहत पशुपालकों को घर पर ही पैकेट बंद चारा उपलब्ध करवाए जाने से लोगों को चारा जुटाने की समस्या से निजात मिल जाएगी. उत्तराखंड में कुल वोटरों में करीब 50 फीसदी महिला वोटर्स हैं.

मुख्यमंत्री घसियारी कल्याण योजना – हाईलाइट्स

– उत्तराखंड में 70 फीसदी से अधिक आबादी की आजीविका कृषि एवं पशुपालन आधारित.
– एक अध्ययन के अनुसार चारा काटने के लिए महिलाओं को आठ से 10 घण्टे पैदल चलना पड़ता है.
– इस योजना से पहाड़ी क्षेत्र में महिलाओं के सर का बोझ कम होगा.
– पशुओं को पौष्टिक चारा मिलने से दूध उत्पादन 15 से 20 फीसदी बढ़ जाता है.
– योजना के तहत मक्का का साइलेज बनाया जाएगा.
– साइलेज की किट 25 किलो की होगी, 50 रुपए में मिलेगी.
– साइलेज फेडरेशन बनाकर देहरादून की सहकारी समितियों से जुड़े 1000 कृषकों की एक हजार एकड़ भूमि पर 10 हजार मीट्रिक टन हरे मक्का का प्रोडक्शन हो रहा है.
– योजना के तहत राज्य सरकार 50 फीसदी अनुदान देगी.
– साइलेज को घर घर तक पहुंचाने के लिए फर्स्ट फेज में पौड़ी, रुद्रप्रयाग, अल्मोड़ा एवं चम्पावत में 50 कॉपरेटिव सोसाइटी के माध्यम से साइलेज विपणन केंद्र खोले गए हैं.

‘घसियारी’ शब्द और योजना पर विपक्ष कर चुका है ऐतराज़
अमित शाह के दौरे से ऐन पहले राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना पर उत्तराखंड कांग्रेस के नेता ऐतराज़ जता चुके हैं. पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत कह चुके हैं कि उत्तराखंड की संस्कृति में महिलाओं का सम्मानजनक स्थान रहा है और उनके लिए ‘घसियारी’ शब्द इस्तेमाल करना पूरे उत्तराखंंड का अपमान है. वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल इस योजना को मुफ्त उपलब्ध चारे का भी बाज़ारीकरण करने की साज़िश बता चुके हैं.

जनसभा के बाद बैठकें करेंगे शाह
इधर, घसियारी योजना लॉंच करने के बाद अमित शाह बन्नू स्कूल6 में ही चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे हैं. इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, सहकारिता मंत्री धनसिंह रावत और उनकी कैबिनेट के कई मंत्री मौजूद हैं. साथ ही, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक समेत संगठन के आला पदाधिकारी भी कार्यक्रम में शिरकत कर रहे हैं. विशेष तौर पर, 70 विधानसभाओं के लिए जिन 70 महिलाओं को भाजपा ने सह प्रभारी बनाया है, वो भी इस कार्यक्रम में हैं और इनके साथ शाह इसके बाद बैठक भी करेंगे.

दोपहर भोजन के बाद भी बैठकों का दौर जारी रहेगा. पहले शाह जनप्रतिनिधियों और भाजपा के प्रदेश संगठन के पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे और बाद में कोर ग्रुप के सदस्यों के साथ. इसके बाद शाह शाम को हरिद्वार के लिए रवाना होंगे, जहां वह विश्वविद्यालय के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद संत समुदाय के साथ भी भेंट करेंगे.

Tags: Amit shah news, Amit shah rally, Uttarakhand Assembly Election 2022, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर