आठ लाख का ‘गहना’ पहने घूम रहा है भेलकर्मी की जान लेने वाला गुस्सैल हाथी

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: November 14, 2018, 7:09 PM IST
आठ लाख का ‘गहना’ पहने घूम रहा है भेलकर्मी की जान लेने वाला गुस्सैल हाथी
ट्रेंक्युलाइज़ करने के बाद इस हाथी को रेडियो कॉलर पहनाकर मीलों दूर ईस्टर्न राजाजी में छोड़ा गया था.

इस हाथी को एक बार फिर ट्रेंक्युलाइज कर अब पालतू हाथी बनाया जाएगा. चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन मौनिष मल्लिक ने इस हाथी को ट्रेंक्युलाइज करने के आदेश जारी कर दिए हैं.

  • Share this:
हाथी के बारे में सबसे मशहूर कहावत है कि ‘ज़िंदा हाथी लाख का तो मरा सवा लाख का’. लेकिन हरिद्वार के भेल आज एक भेल कर्मचारी की जान लेने वाला हाथी का मूल्य इससे कहीं ज़्यादा है क्योंकि उसने लाखों रुपये का एक गहना भी पहना हुआ है. यह गहना है आठ लाख रुपये कीमत का रेडियो कॉलर.

इस साल के शुरुआत में जनवरी महीने में एक हाथी ने हरिद्वार के भेल, जज कॉलोनी और बिल्केश्वर क्षेत्र में जमकर उत्पात मचाया था. तब उस हाथी ने दो लोगों की जान ले ली थी. परेशान वन विभाग ने 19 जनवरी को 36 घंटे के ऑपरेशन के बाद इस हाथी को बिल्केश्वर क्षेत्र में ट्रेंक्युलाइज़ किया था.

ट्रेंक्युलाइज़ करने के बाद गुस्साए हाथी को दो पालतू हाथियों की मदद से ट्रक में लादकर मीलों दूर ईस्टर्न राजाजी में छोड़ दिया था. इस गुस्सैल हाथी की पहचान होती रहे इसके लिए रातों-रात WWF की मदद से कोयम्बटूर से रेडियो कॉलर मंगावाकर हाथी को पहनाया गया था. फिर हाथी को जंगल में छोड़ दिया गया था.

रेडियो कॉलर की मदद से राजाजी पार्क प्रशासन को इस हाथी की पल-पल की लोकेशन मिलती रहती है. हरिद्वार के भेल क्षेत्र में इस हाथी अक्टूबर से मूवमेंट बनी हुई थी. आज बदकिस्मत भेलकर्मी के इसी हाथी की बदमिज़ाजी का शिकार बनने के बाद वन विभाग ने इसे पालतू बनाने का फ़ैसला लिया है.

इस हाथी को एक बार फिर ट्रेंक्युलाइज कर अब पालतू हाथी बनाया जाएगा. चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन मौनिष मल्लिक ने इस हाथी को ट्रेंक्युलाइज करने के आदेश जारी कर दिए हैं. अगर यह अभियान सफल रहता है तो अब तक इंसानों की जान लेने वाला यह हाथी लोगों की मदद करता दिखेगा.

गजराज बना यमराज.... सुबह घूमने निकले भेलकर्मी को कुचला

VIDEO: गड्ढे में गिरा था हाथी का बच्चा, दोस्ती का हाथ बढ़ाकर इंसान ने बचाया
Loading...

VIDEO: 'हनी बी डिवाइस' से बचाई जाएगी हाथियों की जान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2018, 7:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...