बेनामी संपत्ति कानून पर कांग्रेस ने कहा- ऐसा न हो कि खास लोगों को टारगेट किया जाए

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा बेनामी संपत्ति पर कानून बनाने की घोषणा का कांग्रेस के साथ ही यूकेडी ने स्वागत किया है.

Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: July 22, 2019, 11:50 PM IST
बेनामी संपत्ति कानून पर कांग्रेस ने कहा- ऐसा न हो कि खास लोगों को टारगेट किया जाए
त्रिवेंद्र सरकार की योजना जब्त संपत्ति का उपयोग स्कूल, अस्पताल और जनहित के कार्यों में करने की है.
Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: July 22, 2019, 11:50 PM IST
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा बेनामी संपत्ति पर कानून बनाने की घोषणा का कांग्रेस के साथ ही यूकेडी ने स्वागत किया है. लेकिन साथ ही दोनों ने संदेह भी व्यक्त किए. कांग्रेस का कहना है कि सरकार की सोच सही है, लेकिन ऐसा न हो कि इसमें खास लोगों को टारगेट किया जाए. कहीं इसका हाल भी ज़ीरो टॉलरेंस की तरह न हो जाए. वहीं यूकेडी का कहना है कि कहीं ऐसा ना हो कि सीएम की बाकी घोषणाओं की तरह ये भी एक जुमला साबित हो. बता दें कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने रविवार को अपने विधानसभा क्षेत्र डोईवाला में आयोजित एक सभा में बेनामी संपत्ति पर कानून लाने की घोषणा की.

माफियाओं व बेनामी संपत्ति इकट्ठा करने वालों के बीच हलचल

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने बेनामी संपत्ति पर कानून बनाने की बात पर कहा कि उत्तराखंड सरकार जल्द ही एक ऐसा कड़ा कानून लाने वाली है जिसमें अघोषित रूप से इकट्ठी की गई संपत्ति की जांच की जाएगी. उन्होंने कहा कि जब से यह घोषणा की गई तब से ही कई तरह की प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं. सीएम ने कहा कि वह इस बात से बहुत खुश हैं कि माफियाओं और बेनामी संपत्ति इकट्ठा करने वालों के बीच में इस घोषणा के बाद से हलचल मच गई है.

बता दें कि त्रिवेंद्र सरकार की योजना जब्त संपत्ति का उपयोग स्कूल, अस्पताल और जनहित के कार्यों में करने की है. सीएम ने भ्रष्टाचार के खिलाफ धर्मयुद्ध की तरह लड़ने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार भ्रष्टाचार मुक्त है. साथ ही उनकी सरकार ने भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए कई कदम उठाए हैं.

ये भी पढ़ें - डीएम ने कहा:129 गांव ऐसे भी जहां 180 बालिकाओं का जन्म हुआ

ये भी देखें - नए सांसदों ने उत्तराखंड के मुद्दों को दमदार अंदाज में उठाया
First published: July 22, 2019, 11:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...