लाइव टीवी

विधानसभा सत्र, दूसरा दिनः कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर सदन में कांग्रेस का हंगामा

News18 Uttarakhand
Updated: June 25, 2019, 1:53 PM IST
विधानसभा सत्र, दूसरा दिनः कानून-व्यवस्था की स्थिति को लेकर सदन में कांग्रेस का हंगामा
नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने सदन में कानून-व्यवस्था का प्रश्न उठाया और नियम 310 में चर्चा की मांग की. (फ़ाइल फ़ोटो)

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत खराब है. इस मुद्दे पर प्रश्नकाल से पहले चर्चा की जानी चाहिए.

  • Share this:
उत्तराखंड विधानसभा के विशेष सत्र के दूसरे दिन विधानसभा परिसर में जमकर हंगामा हुआ. सत्र शुरु होते ही कांग्रेस नियम 310 में कानून-व्यवस्था पर चर्चा की मांग को लेकर अड़ गई. इसके बाद काफ़ी  देर तक हंगामा होता रहा और स्पीकर के नियम 58 में इस पर चर्चा की अनुमति दिए जाने के बाद ही प्रश्नकाल शुरु हो सका.

'जनता की समस्याओं के  प्रति गंभीर नहीं सरकार'

सदन की कार्यवाही शुरु होते ही नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालत खराब है. प्रदेश में बच्चियों का बलात्कार हो रहा है और इस गंभीर मुद्दे पर प्रश्नकाल से पहले चर्चा की जानी चाहिए. संसदीय कार्य मंत्री ने कहा प्रश्नकाल के बाद 310 पर फ़ैसला लिया जएगा. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि इससे गंभीर विषय नहीं हो सकता.

एक दिन और बढ़ा विधानसभा का विशेष सत्र, अब बुधवार तक चलेगा

इस पर सदन का माहौल गरमा गया और विपक्ष प्रश्नकाल की जगह 310 पर चर्चा पर अड़ गया. कांग्रेस नेताओ का कहना था कि सरकार जनता की समस्याओं को लेकर गंभीर नहीं है. स्पीकर ने नियम 58 में इस मामले पर चर्चा की बात कही तो आखिरकार सहमति बनी और प्रश्नकाल शुरु हो सका.

समाज कल्याण विभाग के प्रश्न का जवाब दे रहे यशपाल आर्य बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह जीना ने उठाया बिना सड़कों को मंज़ूरी मिले उन पर गाड़ियां चलने का सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि बिना सर्वे की सड़कों में हादसा होने पर दुर्घटना बीमा नहीं मिलता है. इसका जवाब देते हुए परिवहन मंत्री यशपाल आर्य ने बताया कि कुल 1089 में से 790 सड़कों का सर्वे हुआ है. 61 सड़कों का सर्वे अभी बाकी है.

मंत्री के पास जवाब नहीं
Loading...

पर्यटन विभाग से जुड़े एक सवाल के जवाब पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तराखंड के चार धामों के कोई श्राइन बोर्ड नहीं है. मंदिर समितियां मंदिरों का संचालन कर रही हैं. 2018 में कुल 27,81,000 यात्री चार धाम आए थे. इस साल अब तक 23,09,000 यात्री चार धाम आ चुके हैं.

प्रकाश पंत के निधन पर सीएम ने कहा- हमने अपना छोटा भाई खो दिया

कांग्रेस विधायक प्रीतम सिंह के सवाल पर पर्यटन मंत्री निरुत्तर हो गए. प्रीतम सिंह ने पूछा कि चार धाम यात्रा की तैयारियों पर कितना पैसा खर्च हुआ था? पर्यटन मंत्री के पास इसकी जानकारी नहीं थी.

बीजेपी विधायक महेश नेगी ने जाम का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि यात्रियों के आने से जाम की समस्या बढ़ी है. पर्यटन मंत्री ने कहा कि सरकार ने जाम हटाने के पूरे प्रयास किए हैं.

(दीपांकर भट्ट और रॉबिन सिंह चौहान की रिपोर्ट)

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज  Uttarakhand लाइक करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 25, 2019, 1:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...