लाइव टीवी

बंशीधर भगत बने उत्तराखंड भाजपा के नए अध्यक्ष... देखिए 6 बार के विधायक का राजनीतिक सफ़र

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: January 16, 2020, 5:43 PM IST
बंशीधर भगत बने उत्तराखंड भाजपा के नए अध्यक्ष... देखिए 6 बार के विधायक का राजनीतिक सफ़र
2022 के लिए नई ज़िम्मेदारियों, नई चुनौतियों का सामना करने के लिए भाजपा में नए अध्यक्ष के तौर पर बंशीधर भगत की ताजपोशी हो गई है.

पहले कैलाश शर्मा और फिर कैलाश पंत ने अपने नाम वापस ले लिए और बंशीधर भगत के नाम पर सहमति दे दी.

  • Share this:
देहरादून. 2022 के लिए नई ज़िम्मेदारियों, नई चुनौतियों का सामना करने के लिए भाजपा में नए अध्यक्ष के तौर पर बंशीधर भगत की ताजपोशी हो गई है. इससे पहले देहरादून के बीजापुर गेस्ट हाउस में अध्यक्ष पद के अन्य दावेदारों कैलाश पंत और कैलाश शर्मा के साथ बंद कमरे में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, केंद्रीय पर्यवेक्षक अर्जुन मेघवाल ने चर्चा की. पहले कैलाश शर्मा और फिर कैलाश पंत ने अपने नाम वापस ले लिए और बंशीधर भगत के नाम पर सहमति दे दी. इसके बाद अर्जुन मेघवाल ने बंशीधर भगत के नाम का ऐलान कर दिया.

कौन हैं बंशीधर भगत 

देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से प्रेरित होकर राजनीति में आए बंशीधर भगत 1975 में जनसंघ पार्टी से जुड़े थे. उन्होंने सबसे  किसान संघर्ष समिति का मोर्चा संभाला था. रामजन्म भूमि आन्दोलन के दौरान बंशीधर भगत करीब 23 दिन अल्मोड़ा जेल में भी रहे.

साल 1989 में बंशीधर भगत ने नैनीताल-ऊधम सिंह नगर ज़िले में अध्यक्ष पद संभाला. 1991 में वह पहली बार उत्तर प्रदेश विधानसभा में नैनीताल से विधायक बने. 1993 में दूसरी और 1996 में तीसरी बार नैनीताल से विधायक बने.

यूपी में भी बने मंत्री

बंशीधर भगत ने यूपी सरकार में खाद्य और रसद राज्यमंत्री का कार्यभार संभाल. साल 2000 में उत्तराखण्ड राज्य गठन के बाद कैबिनेट मंत्री के पद पर भी बंशीधर ने अपनी ज़िम्मेदारी बखूबी निभाई. 2017 में विधानसभा चुनाव में बंशीधर भगत ने 6वीं जीत हासिल की.

राजनीति में लम्बा अनुभव रखने वाले बंशीधर भगत को पार्टी आलाकमान ने प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर राज्य की सियासत की बागडोर सौंपी हैं. पार्टी को भरोसा है कि अगले विधानसभा चुनाव में बंशीधर भगत का ये अनुभव पार्टी के काम आएगा. हालांकि जानकार यह भी कह रहे हैं कि नए प्रदेश अध्यक्ष के पास 2022 विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए वक्त कम और चुनौतियां ज्यादा हैं.ये भी देखें: 

कई नाम उछले थे बीजेपी अध्यक्ष पद के लिए... आखिर ऐसे हुई भगत के नाम की घोषणा 

उत्तराखंड को दी गईं चैंपियन की गालियां भूल गई बीजेपी? घर वापसी पर हां नहीं, तो न भी नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 2:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर