786 नंबर प्लेट का बेस प्राइस 10 गुना बढ़ा, नीलामी में शामिल होने के लिए अब देने होंगे इतने रुपये

पहले सभी नंबरों के लिए बेस प्राइस (Base Price) दस हजार रुपये ही था. अब सरकार ने इसमें दो कैटेगरी बना दी है.

News18 Uttarakhand
Updated: August 14, 2019, 11:43 AM IST
786 नंबर प्लेट का बेस प्राइस 10 गुना बढ़ा, नीलामी में शामिल होने के लिए अब देने होंगे इतने रुपये
उत्तराखंड में वीआईपी नंबरों को लेने के लिए अब जेब ज़्यादा ढीली करनी पड़ेगी. (प्रतीकात्म तस्वीर)
News18 Uttarakhand
Updated: August 14, 2019, 11:43 AM IST
उत्तराखंड में गाड़ी के लिए 786 नंबर (Vehicle Number Plate 786)  लेना अब 10 गुना तक महंगा हो जाएगा. 0786 नंबर लेने के लिए पहले से ही नीलामी (Auction) का नियम है. इसमें भाग लेने के लिए पहले सिर्फ 10,000 रुपये बेस प्राइस (Base Price) के तौर पर जमा करने पड़ते थे, लेकिन त्रिवेन्द्र रावत की सरकार (Trivendra Government) ने इसे बढ़ाकर अब एक लाख रुपये कर दिया है. यानी एक लाख रुपये जमा करने के बाद नीलामी में भाग लेने का मौका मिलेगा. इसके बाद नीलामी में बोली लगाई जाएगी. बता दें कि इस्लाम में 786 नंबर का बहुत महत्व है. सरकार ने 0786 के साथ ही 0001 नंबर प्लेट के लिए भी बेस प्राइस एक लाख रुपए कर दिया है.

बनीं दो कैटेगरी

परिवहन विभाग की ओर से जारी किए जाने वाले कुल 38 फैन्सी नंबरों के बेस प्राइस में बदलाव किया गया है. पहले सभी नंबरों (उदाहरण के लिए 0001, 0002, 0009, 0786 ) के लिए बेस प्राइस दस हजार रुपये ही था. अब सरकार ने इसमें दो कैटेगरी बना दी है. 0001 और 0786 के लिए बेस प्राइस एक लाख, जबकि बाकी बचे 36 फैन्सी नंबरों के लिए बेस प्राइस 25,000 रुपये कर दिया गया है.

आमदनी बढ़ाने का प्रयास

मंशा यह है कि फैन्सी नंबरों के ज़रिए आमदनी बढ़ाई जाए. पहले बेस प्राइस कम होने के कारण सरकार को उतनी आमदनी नहीं हो पा रही थी, जितने की उम्मीद की गई थी. ऐसा इसलिए की देहरादून और हरिद्वार जिलों में जितनी मारामारी देखने को मिलती है, उतनी दूसरे ज़िलों में नहीं.

पांच लाख तक में बिके हैं नंबर 

मसलन बागेश्वर या रुद्रप्रयाग में वही फैन्सी नंबर 10,000 या 15,000 में मिल जाया करता था, जिसके लिए देहरादून और हरिद्वार में ज्यादा खर्च करना पड़ता था. अब नए नियम से हर जिले में एक न्यूनतम दाम तय कर दिया गया है. बता दें कि मई 2017 से प्रदेश में फैन्सी नंबरों की निलामी की प्रक्रिया शुरू की गई थी. देहरादून और हरिद्वार में ये फैन्सी नंबर पांच लाख तक में बिके हैं, लेकिन बाकी जिलों में फैन्सी नंबरों के लिए ज्यादा दिलचस्पी देखने को नहीं मिली.
Loading...

येे भी देखें: 

उत्तराखंड में नेताओं से क्यों पूछा जाता है 13 का पहाड़ा 

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क जा रहे हैं तो सिफारिश की उम्मीद ना रखें, नहीं चलेगी 
First published: August 14, 2019, 11:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...