Home /News /uttarakhand /

उत्तराखंडः हरक, काऊ और प्रीतम सिंह की हुई मुलाकात, क्या BJP को फिर झटका देने की तैयारी में है कांग्रेस?

उत्तराखंडः हरक, काऊ और प्रीतम सिंह की हुई मुलाकात, क्या BJP को फिर झटका देने की तैयारी में है कांग्रेस?

Uttarakhand Assembly Election Politics: बीजेपी नेता हरक सिंह और उमेश शर्मा काऊ की एक बार फिर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह से हुई मुलाकात.

Uttarakhand Assembly Election Politics: बीजेपी नेता हरक सिंह और उमेश शर्मा काऊ की एक बार फिर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह से हुई मुलाकात.

Uttarakhand Election: कांग्रेस से बागी होकर बीजेपी में शामिल होने वाले हरक सिंह के डिफेंस कॉलोनी स्थित आवास पर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ और हरिद्वार से कांग्रेस टिकट पर चुनाव लड़ चुके ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी की मुलाकात से गर्माई सियासत.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ बीजेपी और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के बीच दल-बदल का खेल थमा नहीं है. इसकी एक झलक आज भी दिखी, जिससे सियासत गर्माने के संकेत हैं. दरअसल, पिछले 9 दिनों में ऐसा तीसरी बार देखने को मिला है, जब उमेश शर्मा काऊ और हरक सिंह रावत, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह के साथ नजर आए. मंगलवार को हरक सिंह के डिफेंस कॉलोनी स्थित आवास पर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, बीजेपी विधायक उमेश शर्मा काऊ और हरिद्वार से कांग्रेस टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ चुके कांग्रेस नेता ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी की मुलाकात हुई.

इसी महीने 11 अक्टूबर को बीजेपी नेता यशपाल आर्य की कांग्रेस में घर वापसी के दिन भी प्रीतम सिंह और उमेश शर्मा काऊ दिल्ली में एक साथ दिखे थे. वहीं 16 अक्टूबर को हरक, प्रीतम और काऊ एक ही फ्लाइट से दिल्ली पहुंचे थे, तब भी चर्चाओं का बाजार गरम रहा. हालांकि, सभी नेताओं ने इसे तब एक संयोग बताया था. हरक सिंह, उमेश शर्मा काऊ को लेकर तब सीधे बीजेपी हेडक्वार्टर चले गए थे.

ये भी पढ़ें- टिहरी में धर्मांतरण! घनसाली में गरीब-कमज़ोर वर्ग निशाने पर, हिंदू संगठनों ने दी आंदोलन की चेतावनी

वहीं, आज मंगलवार को एक बार फिर तीनों नेता देहरादून में हरक सिंह रावत के डिफेंस कॉलोनी स्थित आवास पर  एक साथ देखे गए. मंगलवार की मुलाकात में फर्क इतना था कि कांग्रेस नेता ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी भी इसमें शामिल थे.

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं. नेता प्रतिपक्ष और बागियों की इन मुलाकातों से सियासी हलकों में कयासों का बाजार गर्म है. हरक सिंह और उमेश शर्मा काऊ बीजेपी के उन नेताओं में शामिल हैं जो 2016 में कांग्रेस से बागी होकर बीजेपी में आ गए थे. बीजेपी में कैबिनेट मंत्री रह चुके यशपाल आर्य इसी महीने 11 अक्टूबर को बीजेपी और मंत्री पद को अलविदा कह चुके हैं. यशपाल आर्य उत्तराखंड की सियासत में एक बड़ा दलित चेहरा माने जाते हैं. यशपाल आर्य की कांग्रेस में वापसी को बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है.

Tags: BJP Congress, Harak singh rawat, Uttarakhand Assembly Election 2022, Uttarakhand politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर